Breaking

Friday, November 22, 2019

मेला शुभारंभ अवसर पर नदारद रहे परिषद के पार्षद.... मनमुटाव के चलते आगामी कार्यक्रमों को लग सकता है ग्रहण

पेटलावद से राज मेड़ा की रिपोर्ट:-
पेटलावद  :-शुक्रवार को 9 दिवसिय भेरवनाथ मवेशी मेले का शुभारंभ अतिथियों ने फिता काटकर पुरे विधी विधान के साथ किया। नगर परिषद के तत्वाधान में पंपावती नदी तट पर स्थित मेला ग्राउंड में प्रतिवर्ष अनुसार इस वर्ष भी 22 नंवबर से 30 नंवबर तक मेले का आयोजन किया जा रहा है, जिसका शुभारंभ शुक्रवार को भगवान भेरवनाथ की पुजा अर्चना व आरती उतार कर किया गया। वहीं बाहर से आयें व्यापारियों को भुखण्ड भी आवंटीत कियें गयें। इस बार मेले का आयोजन स्वच्छता को दृष्टिगत रखते हुए किया जा रहा है, इसके लिए सभी दुकानदारां को विशेष रूप से सफाई रखने के निर्देश दियें गयें है। साथ हीं 28 नंवबर को अखिल भारतीय विराट कवी सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा। मेले में झुले, चकरी सहित अन्य दुकानें सज कर तैयार हो गई है वहीं नगर परिषद द्वारा सर्वश्रेष्ठ दुकान सजावट एवं श्रेष्ठतम मवेशियों के पालको को पुरूस्कृत भी किया जाएगा।
पार्षद रहे नदारद.....
नगर परिषद की नविन टीम गठीत हुए लगभग ढाई वर्ष हीं हुए है, और इन ढाई वर्षो में नप. अध्यक्ष और पार्षदों के बीच तालमेल नहीं बैठ रहा है। एैसा हीं मामला शुक्रवार को भेरवनाथ मवेशी मेले के शुभांरभ अवसर पर देखने को मिला जहां मेले के शुभारंभ अवसर पर नगर परिषद अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सीएमओं सहित नगर के तीन पार्षद हीं मौजुद थे अन्य समस्त पार्षद नदारत रहे। सुत्रों के अनुसार वर्तमान में नगर परिषद के पार्षद खुद अध्यक्ष की कार्यप्रणाली से खफा है, अध्यक्ष और पार्षदों के बीच मुनमुटाव के चलते नगर में विकास कार्य भी नहीं हो पा रहे है। जानकारी के अनुसार परिषद की बैठक में मेला समिति गठीत नहीं होने के चलते पार्षदों की नाराजगी मेला शुभारंभ पर खुलकर सामने आई जबकि प्रतिवर्ष पुरी परिषद की टीम इस आयोजन में बढ़ चढ़कर भाग लेती आई है लेकिन इस बार अध्यक्ष व पार्षद के बिच हो रहे मुनमुटाव के चलते मेले में होने वाले आगामी कार्यक्रम को भी ग्रहण लग सकता है। पुरे नगर के विकास का जिम्मा लियें बैठे परिषद के जनप्रतिनिधियों में मनमुटाव इस तरह चलता रहा तो संभव है कि नगर विकास में कई बाधाए उत्पन्न होगी। वहीं इस मामले में सीएमओं लालसिंह राठौर से चर्चा की गई तो उन्होने बताया हमने सभी पार्षदों को निमंत्रण भेजा था, मुझे नहीं पता की वह इस कार्यक्रम में क्यों नहीं आये।



Post a Comment

Post Top Ad