Breaking

Wednesday, November 27, 2019

सोयाबिन की आवक कम, भाव अच्छे, किन्तु फिर भी किसानों को नहीं है लाभ...मण्डी प्रशासन की निष्क्रियता से बाजार में खरीदी कर रहे व्यापारी...


पेटलावद से राज मेड़ा की रिपोर्ट :-
पेटलावद। क्षेत्र में सोयाबिन की आवक कमजोर है, पर भाव अच्छे मिल रहे है। पेटलावद मण्डी में मंगलवार को सोयाबीन 4200 रूपयें प्रति क्विंटल बिका, किन्तु यह सोदे केवल सुबह के समय हीं मण्डी में हुए। मण्ड़ी प्रशासन की निष्क्रियता के चलते 12 बजें बाद व्यापारी बाजारों में अनाज खरीदी प्रारंभ कर देते है, जिसके चलते किसानों को उचित मुल्य न
हीं मिल पाता है, छोटे किसान मजबुरी में अपना माल बाजारों में बेच देते है। मण्ड़ी प्रशासन सक्रिय रहे और व्यापारियों को सुबह से शाम तक मण्डी में हीं खरीदी करने के लिए बाधित करे तो इसका पुरा लाभ किसानों को मिलेगा।

ग्रामीण क्षेत्रों में भी लुटपाट....

तहसील मुख्यालय के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्रों में हीं कई व्यापारियों ने अपनी दुकानें लगा रखी है, जहां वें किसानों से अपने मनमाने भाव में उपज की खरीदी करते है, इसके साथ हीं किसानों के साथ वजन में भी कांटामारी की जाती है, जिसका उदाहरण सारंगी के एक व्यापारी के द्वारा पिछले वर्ष रिमोंड से कांटे को कंट्रोल करने का सामने आया था, इसके बावजुद भी मण्डी प्रशासन के द्वारा किसानों के हित में कोई दुरगामी कार्यवाहीं नहीं की गई।
सोयाबिन की आवक कम....
इस वर्ष अधिक बारिष के चलते सोयाबिन की आवक वैसे हीं कम है और जो किसानों के पास फसल है या तो वह दागदार हो गई है या उसमें सड़न लग गई है। इन्हीं बहानों के चलते व्यापारी किसानों को उनकी फसल का उचित मुल्य नहीं देते है, जबकि आवक कम होने से सोयाबिन का भाव अधिक होना था किन्तु यह लाभ भी किसानों को नहीं मिल पाया। कई व्यापारी तो सोयाबिन खरीदकर उसे स्टाक कर रहे है और समय आने पर अधिक भाव का इंतजार कर रहे है। नगर के कई ईलाकों में व्यापारी रोड़ पर दुकान लगाकर खरीदी करते हुए देखे जा सकते है।

Post a Comment

Post Top Ad