Breaking

Thursday, November 21, 2019

चिमनी की रोशनी में पढ़ाई करते बच्चे विद्युत विभाग ने काटी पूरे गांव की लाइट

पेटलावद से  राज मेडा की  रिपोर्ट
पंथ बोराली:- विद्युत विभाग के अधिकारियों की हठधर्मिता के चलते बच्चों को अंधेरे में चिमनी की रोशनी में पढ़ाई करने को मजबूर होना पढ़ रहा है। विद्युत विभाग इन दिनों ग्रामीणों को ज्यादा ही परेशान कर रहा है ,जो ग्रामीण अपना बिल भर रहे हैं उनके भी विद्युत कनेक्शन कांटे जा रहे हैं। कुछ ग्रामीण बिल नहीं भरते हैं तो सभी के कनेक्शन काटना कहां का न्याय हैं, वर्तमान में विद्युत विभाग की दादागिरी का दंश आदिवासी अंचल के भोले-भाले ग्रामीण खेल रहे हैं।  मामला समीपस्थ ग्राम पंथ बोराली का है जहां के ग्रामीण अंधेरे में रहने को मजबूर हैं, वही स्कूल छात्र-छात्राओं की परीक्षा चल रही है ऐसे में लाइट काटने से उनकी पढ़ाई भी प्रभावित हो रही है। ग्राम पंथ बोराली के ग्रामीणों ने बताया कि विद्युत विभाग के कर्मचारियों के द्वारा पूरे गांव की लाइट अपनी मनमर्जी के अनुसार काट दी गई है , कारण यहां के कुछ लोगों ने अपना बकाया बिल नहीं भरा तो पूरे गांव को अंधेरे में धकेल दिया। ग्रामीणों ने बताया कि कुछ लोगो ने बिल नही भरा तो इसमें हमारी क्या गलती हमने तो समय पर बिजली बकाया भर दी थी लेकिन विद्युत विभाग द्वारा पूरे गांव की लाइन का ट्रांसफार्म ही बंद कर दिया गया जिससे पूरे गांव के लोग अंधेरे में रहने को मजबूर है।
वही दूसरी ओर बच्चो की परीक्षा भी दिनांक 18 नवम्बर से 26 नवम्बर तक परीक्षा चल रही है ।लेकिन विद्धुत मण्डल को इन सब चीजों से कोई लेना देना नही है ।जबकि शासन बच्चो को शिक्षा से जोड़ने के लिए दिन रात करोड़ो रूपये खर्च रही है ।लेकिन विद्धुत मण्डल के कोई मतलब नही है ।चाहे बच्चो का भविष्य खराब हो जाए

Post a Comment

Post Top Ad