Breaking

Saturday, December 21, 2019

टोल कंपनी की मनमानी के खिलाफ लामबंद हुए टोलकर्मी.....

पेटलावद से हरिश  राठौड़ की रिपोर्ट
पेटलावद। ईगलदीप इंफ्रा इंडिया प्रा.लि. की लापरवाहीं व टोल पर कार्य कर रहे कर्मचारियों से भेदभाव करने को लेकर समस्त कर्मचारी शनिवार को छुट्टी पर उतर गयें है, जिस कारण यहां से वाहन बिना रोकटोल सफर तय कर रहे है। नगर से 10 किमी दुर स्थित भेरूघाट-मातापाड़ा टोल प्लाजा के 32 कर्मचारियों ने काम से छुट्टी लेकर टोल काटने से मना करते हुए अपनी मांगे पुरी करने के लिए तहसीलदार थांदला को एक आवेदन पत्र सोंपा।
      टोल कर्मियों की छुट्टी पर जाने से टोल प्लाजा से बिना टोल दियें सेंकड़ों वाहन निकल रहे है, टोल प्लाजा कर्मियों की मुख्य मांगे अपने वेतनमान, ग्रेज्युटी, मेडिक्लेम, पीएफ एकाउंट, मुलभुत सुविधाए एवं छुट्यिं को लेकर है, जिसके लिए टोल कर्मियों द्वारा कंपनी को कई बार लिखित मे व मोखिक रूप से सुचित किया गया किन्तु उनके द्वारा कोई सुनवाई नहीं होने पर शनिवार 21 दिसबंर से सभी कर्मचारी काम छोड़कर बैठे है। टोल कर्मियों ने बताया कि धारा 144 लागु होने से हम हड़ताल नहीं कर रहे है किन्तु हम छुट्टी पर रहेंगे और गाडि़या फ्रि में छोडेंगे और जब तक हमारी मांगे पुरी नहीं होती है, हम काम पर नहीं लोटेंगे और किसी को काम भी नहीं करने देंगे।

यह है मुख्य मांगे...

टोल कर्मियों द्वारा आवेदन में अपनी मांगे रखते हुए बताया गया कि ईगलदीप कंपनी द्वारा जब से टोल चालु किया गया है तब से आज की सेलेरी सीट, ग्रेज्युटी का लाभ, चार घंण्टे ओवर टाईम का पैसा, फुड़ अलाउंस का पैसा, सभी कर्मचारियों का मेडिक्लेम, पीएफ एकाउंट अपडेट, बारिष के मोसम मे ंरेनकोट तथा ठण्ड के मौसम में गर्म कपडे, आने जाने के लिए वाहन सुविधा और छुट्यिं का प्रावधान किया जाए।

सेलरी में भेदभाव न हो.....

टोल कर्मियों का आरोप है कि कंपनी के द्वारा बाहर से आने वाले कर्मचारियां को अधिक सेलरी दी जा रहीं है और स्थानीय लोगो को कम सेलरी दी जा रहीं है, आखिर यह भेदभाव क्यों?
इसके साथ हीं अधिकारियों द्वारा आश्वासन दिया गया था कि सभी कर्मचारियों को 8 से 10 हजार रूपयें की सेलरी दी जाएगी किन्तु आज तक हमारे खाते में 4500 से 6000 रूपयें हीं डाले गयें है। इन मांगो को लेकर टोल कर्मी विरोध कर रहे है और शिघ्र हीं अपनी मांगे पुरी करवाने की बात कह रहे है।

मुत्यु पर नहीं मिला लाभ....

टोल कर्मियां ने चर्चा में बताया कि पूर्व में हमारे एक सहकर्मी रामु निनामा की ड्युटी के दौरान हादसे में मुत्यु हो गई थी जिनके परिजनों को भी ईगलदीप कंपनी द्वारा कोई सहायता राशि प्रदान नहीं की गई और टोल प्लाजा पर पदस्थ अन्य कर्मचारियों के साथ भी कई बार ड्युटी के दौरान हादसे हो चुके है उन्हें भी कंपनी द्वारा कोई सुविधा नहीं दी गई।

मुफ्त में निकल रहीं गाडि़या.....

टोल कर्मियों के कार्य से विरत रहने पर टोल प्लाजा पर से निकलने वाले वाहनों से कोई शुल्क नहीं वसुला जा रहा है जिसे लेकर वाहन चालको में खुशि की लहर है, वाहन चालको का कहना है कि टोल प्लाजा पर बेमतलब का पैसा वसुला जा रहा है, रोड़ का मेंटेनेस ठीक तरिके से नहीं किया जा रहा है और हमसे लिया जा रहा पैसा व्यर्थ जा रहा है। वहीं टोल कर्मियों के साथ भी अत्याचार किया जा रहा है।
टोल कंपनी के मेनेजर भरत सर का कहना है कि कंपनी के द्वारा टोल कर्मीयों को जवाब दिया जा चुका है इस मामले में कपंनी का निर्णय अंतिम होगा वह जो कर रहे है उसके लिए हम कुछ नहीं कर सकते।

-----------------------//////////

समाचार एवं विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें

राज मेड़ा :-7049735636

 हरीश  राठौड़ :-99816 05033



Post a Comment

Post Top Ad