Breaking

Friday, January 10, 2020

बहला-फुसलाकर भगा कर ले गया और उसके साथ गलत कार्य किया था-10 वर्ष के सश्रम कारावास

पेटलावद से हरिश राठौड की रिपोर्ट

जिसकी कहानी इस प्रकार है ...
अभीयोत्री  प्रतिदिन   आगराल से मेघनगर स्कूल में अपनी सहेलियों के साथ बस पढ़ने जाती थी  दिनांक  5/9/19 को जब अभियोत्री   सुबह 11:30 पर स्कूल , जानने के लिए घर से निकली
तो शाम 5:00 बजे तक घर नहीं आई / घर वालों के काफी तलाश करने पर नहीं मिलने पर दिनांक 10/9/19 को रिपोर्ट पंजीयन कराई कि रवि पिता ओकर जाती जोक्शन जो पूर्व में गांव में शादी के समय आया था वही अभी उसके गांव से लापता है   वह  ही मेरी नाबालिक लड़की को बहला-फुसलाकर भगा कर ले गया होगा फरियादी की रिपोर्ट पर थाना मेघनगर में धारा 363 भादस का पंजीयन किया गया बाद अनुसंधान के दौरान  अभीयोत्री को दस्तावेज किया गया तो अभियोत्री  ने बताया कि आरोपी रवि उसे बहला-फुसलाकर भगा कर ले गया और उसके साथ गलत कार्य किया था विवेचना पूर्व कर माननीय न्यायालय में अभियोग पत्र धारा 363, 366,376, 376 एन 343 भादवि पोक्स  एक्टर में पेश किया गया

 सजा की विवरण :-

माननीय न्यायालय द्वारा दोषी पाते हुए आरोपी रवि पिता ओंकार को धारा 376,366 भादवि एवं 5/6 पोक्सो एक्ट में 10-10 वर्ष के सश्रम कारावास एवं 5000रुपये अर्थदंड से दंडित किया गया।
 उत्तर प्रकरण में शासन की ओर से पेरवी श्री. के. एस मुवेल उप-सचालक (अभियोजन ) जिला झाबुआ द्वारा की गई ।
उक्त जानकारी मीडिया सेल प्रभारी सुश्री  सूरज वैरागी सहायक जिला लोक अभियोजना अधिकारी जिला झाबुआ द्वारा दी गई

Post a Comment

Post Top Ad