Breaking

Wednesday, January 22, 2020

बलात्कर के आरोपी को न्यायालय ने सुनाई कठोर सजा...

पेटलावद से हरिश राठौड की रिपोर्ट

पेटलावद । विशेष अपर सत्र न्यायाधीश न्यायाधीश जैसी राठौर की न्यायालय के द्वारा नाबालिग लड़की के साथ बलात्कार करने वाले आरोपी पप्पू पिता सरवन डांगी निवासी मोटाकुआं को 10 वर्ष का सश्रम कारावास व 5000 रुपये का जुर्माना की सजा सुनाई गई। जानकारी देते हुए सहायक जिला लोक अभियोजन अधिकारी एवं सहायक मीडिया सेल प्रभारी सुरेश जामोद द्वारा बताया कि घटना दिनांक 20.4. 2017 को फरियादी रतनलाल पिता सुकलिया ने थाना रायपुरिया पर रिपोर्ट दर्ज करवाई कि उसकी नाबालिक लड़की घर से कक्षा 9वी की परीक्षा देने ग्राम बरवेट आई थी और परीक्षा देकर वापस घर नहीं लौटी इस पर फरियादी व उसकी पत्नी गोरकीबाई ने आसपास एवं रिश्तेदारी में तलाश की लेकिन कहीं पर उसका पता नहीं चला। फरियादी को शंका होने पर नाबालिक लड़की को कोई अज्ञात व्यक्ति बहला-फुसलाकर भगा ले गया इस बात की रिपोर्ट थाने में दर्ज करवाई, विवेचना के दौरान थाना रायपुरिया द्वारा नाबालिक लड़की को दस्तयाब किया गया उसके बाद लड़की ने बताया कि वह परीक्षा देकर घर वापस जा रही थी तभी माही पुल के आगे से आरोपी पप्पू पिता सरवन डांगी मोटरसाइकिल लेकर आया और उसे जबरदस्ती मोटरसाइकिल पर बिठाया और मेघनगर रेलवे स्टेशन ले गया वहां से रेल में बैठा कर कोटा ले गया और कोटा में रोजाना उसकी मर्जी के विरुद्ध आरोपी ने खोटा काम किया । आरोपी के विरुद्ध थाना रायपुरिया में धारा 363, 366 ,376, (2) (एन) भादवी एवं पास्को एक्ट अधिनियम का अपराध पंजीबद्ध किया गया था। विवेचना उपरांत अभियोजन पत्र न्यायालय में पेश किया गया जहां न्यायालय द्वारा विचारण उपरांत आरोपी को सजा से दंडित किया। शासन की ओर से पर भी विशेष लोक अभियोजक प्यारेलाल चौहान द्वारा की गई।

Post a Comment

Post Top Ad