Breaking

Tuesday, January 14, 2020

जीवन में जो कार्य सबसे कठिन लगे, शुरूआत उसी से करो: पंडित डॉ शास्त्री -एमराल्ड जूनियर कॉलेज के अभिव्यक्ति आयोजन का शानदार समापन

पेटलावद से ओपि मालवीय की रिपोर्ट

पेटलावद। जीवन में जो कार्य सबसे कठिन लगे, शुरूआत उसी से करो। जीवन में लक्ष्य को निर्धारित कर संकल्प के साथ आगे बढे सफलता जरूर मिलेगी। एमराल्ड ने अल्प समय वो कर दिखाया। कम समय में इतने कीर्तिमान रचना किसी आश्चर्य से कम नही हैं। यह विचार ज्योतिषाचार्य और पंचाग निर्माता डॉं देवेंद्र शास्त्री ने व्यक्त किए। आप एमराल्ड जूनियर कॉलेज के वार्षिकोत्सव अभिव्यक्ति में बतौर प्रमुख वक्ता संबोधित कर रहे थे। आपने कहा शिक्षा के साथ बच्चों को उच्च संस्कार मिले इस और शिक्षा संस्थान कार्य कर रही हैं यह निश्चित ही विशेष बात हैं। मुख्य अतिथि रतलाम झाबुआ संसदीय क्षैत्र के सांसद गुमानसिंह डामोर ने आदिवासी अंचल में इस प्रकार से शिक्षा के साथ विचार प्रगति, सांस्कृतिक प्रगति और गुणवत्ता के साथ शहरी तरीके से छोटे से शहर में इस प्रकार का आयोजन निश्चित ही पालकों के लिए गौरव की बात हैं। श्री डामोर ने कहा सांस्कृतिक, खेल और पढाई सभी भी विद्यार्थीयों को बराबर ध्यान देना होगा तभी वे निरंतर आगे बढते हुए प्रगति के पथ पर अग्रसर हो पाएगें। बेहतरीन आयोजन के लिए विद्यालय परिवार को शुभकामनाएं। विशेष अतिथि एसडीएम एमएल मालवीय ने कार्यक्रम की प्रस्तुति जो किसी न किसी बात का सामाजिक संदेश दे रही थी उसे सराहा। विशेष रूप से मौजूद टीआई दिनेश शर्मा ने कहा जो कार्य एमराल्ड कर रही हैं उसकी जितनी प्रशंसा की जाए कम हैं। निश्चित ही इस संस्था का भविष्य उज्जवल हैं और आज का आयोजन देखकर मन आल्हादित और उत्साहित हैं। एसडीओपी बबीता बामनिया, तहसीलदार जितेंद्र अलावा, सीएमओं एलएस राठोर, उपनिरीक्षक विजय वास्कले ने संबोधित किया। संस्था की और से डायरेक्टर मनोज जानी ने संस्था के सफर पर प्रकाश डाला और पालकों के विश्वास का आभार जताया। प्राचार्य सौम्या भावसार ने स्वागत भाषण दिया। अतिथियों का स्वागत हरिओम धर्मिता पाटीदार, मनोज नेहा जानी, कमलेश मंजू परमार, अमित पूजा शुक्ला, दिपेश विजया शुक्ला ने किया।
     संचालन टीम लीडर यश रामावत की अगुवाई में अशोक पाटीदार, उज्जवल दास, चारू अग्रवाल, सक्षम अग्रवाल, धरा जानी, स्वर्णीमा रामावत, ऋषभ रामावत, वेदांत अमलियार ने किया। आभार दिपेश शुक्ला ने माना। सभी अतिथियों को स्मृति चिन्ह भेटकर सम्मानित किया गया। पूज्य गुरूजी का शाल श्रीफल से सम्मान संस्था की और किया गया। आयोजन की शुरूआत माँ सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण और समक्ष दीप प्रज्जवलन कर की गई।
आयोजन में सारे कार्यक्रम थीम यानी किसी ने किसी कार्य को संदेश दे रहे थे जो पालकों और जनता को आनंदित कर रहे थे। पूरे आयोजन में अशोक पाटीदार, उज्जवल दास, गोपाल चौधरी, मनीष पाटीदार, प्रियंका त्रिवेदी, खुश्बू राजपुरोहित, दिव्यानी नायक, प्रियंका व्यास, सोनिया काग, रानू गौर, भारती सालवी, मनीषा दुबे, हर्षाली भटेवरा, रितिका गोयल, साद तजाक, रौनित पंवार, शमीम खान, पुष्पेंद्र राठोर, हर्षा पाटीदार, शिवानी धाकड, ज्योति काग, कृतिका जाधव, बरखा राठोड, ंंआशा चौहान, साक्षी कुमारी, मंजू श्रैयल, विजो एंथोनी का विशेष सहयोग रहा। कोरियोग्राफर के रूप में रौनित पंवार ने अहम भूमिका अदा की। बच्चों को अनंत मेकअप ने सुव्यवस्थित सुंदर रूप से सजाया। आयोजन की शुरूआत राष्ट्रगान जणगणमण से हुई तो समापन वंदे मातरम से हुआ।

Post a Comment

Post Top Ad