Breaking

Monday, January 13, 2020

बालिका छात्रावास बावडी की बालिकाओं ने एक दिवसीय शैक्षणिक भ्रमण में कांटो का गार्डन देखा।

पेटलावद से  हरिश राठोड की रिपोर्ट

पेटलावद। लोग तो फूलों का गार्डन बनाते हे पर यहां कांटो का गार्डन है ओर जिसे देखने दूर दूर से आमजन आते हे। यह बात बालिका छात्रावास बावडी की बालिकाओं ने सैलाना स्थित केक्टस गार्डन को देख कर कहीं।
बालिका छात्रावास बावडी की बालिकाओं का एक दिवसीय शैक्षणिक भ्रमण कार्यक्रम रविवार को संपन्न हुआ। जिसमें बालिकाओं ने धोलावाड डेम इको टूरिज्म प्लेस जिला रतलाम देखा जहां पर मत्स्य पालन के संबंध में जानकारी दी गई और धोलावाड डेम में बोटिंग का आनंद लिया।
इसके बाद बालिकाओं का समूह प्रकृति की गोद में स्थिति केदारेश्वर महादेव मंदिर पहुंचा जहां पर प्राकृतिक वातावरण में बालिकाओं ने फोटोग्राफी की और प्रकृति का आनंद लिया।इसके पश्चात दोपहर में बालिकाओं के दल ने सैलाना स्थित विश्व प्रसिद्व केक्टस गार्डन देखा। जहां पर बालिकाओं ने विभिन्न प्रकार के केक्टस के पौधे देखे । अपने अनुभव को साझा करते हुए बालिकाओं ने बताया कि इस प्रकार के केक्टस के पौधे कहीं पर दिखाई नहीं देते है। इन्हे देख कर बहुत ही अच्छा लगा कि कोइ्र्र कांटो का भी गार्डन होगा यह बडा आश्चर्य है। केक्टस गार्डन के बाद रतलाम श
हर में आ कर वहां स्थित कालका माता मंदिर और नगर निगम द्वारा चलाए जा रहे स्वच्छता अभियान को भी देखा और स्वच्छता की प्रेरणा ली।बालिकाओं के एक दिवसीय भ्रमण में बालिका छात्रावास बावडी की वार्डन जिज्ञासा भट्ट, सहायक वार्डन कैलाशी गामड, अंशकालीन शिक्षिकाएं मालती बघेल, सीमा भाटी, बरखा पाटीदार आदि भी साथ में थे।
------------------------------/////


समाचार एवं विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें

🤳राज मेड़ा  7049735636

   हरिश राठौड़  99816 05033

Post a Comment

Post Top Ad