Breaking

Sunday, February 23, 2020

श्मशान घाट के अधूरे निर्माण पर उठे सवाल, जिम्मेदारों की कार्यप्रणाली संदेह के घेरे में

थांदला से इमरान खान की रिपोर्ट

ग्राम पंचायत जुलवानिया बड़ा में श्मशान घाट निर्माण स्वीकृत हुए लगभग दो वर्ष बीत चुका है। ग्राम पंचायत जुलवानिया बड़ा ने श्मशान घाट निर्माण का कार्य दो वर्ष पहले शुरू भी कर दिया, लेकिन उक्त निर्माण कार्य को बीत में अधूरा छोड़ बंद कर दिया गया। जब इसकी पड़ताल की गई तो पता चला कि जुलवानिया बड़ा के तड़वी फलिया निर्माण कार्य ग्राम पंचायत के जिम्मेदार सरपंच-सचिव ने शु रू करवा दिया था इसकी नींव भरकर चारों ओर दीवार बनाई जा रही थी, लेकिन अचानक ही कार्य बंद कर दिया गया। लाखों रुपए की लागत से निर्मित होने वाले उक्त निर्माण अचानक बंद होने से ग्रामीणों को अपने यहां हुई गमी के बाद खुले में ही अंतिम संस्कार करना पड़ रहा है।
   विडंबना यह है कि ग्राम पंचायत के रिकार्ड में श्मशान घाट निर्माण दर्शाया दिया गया है लेकिन धरातल पर श्मशान घाट वजूद में नहीं है। उक्त निर्माण के लिए लाखों रुपए स्वीकृत हुए हैं वह भी फर्जी बिल लगाकर ग्राम पंचायत के जिम्मेदारों ने राशि डकार ली है। प्रशासन में बैठे जिम्मेदार अधिकारी उक्त निर्माण की पारदर्शिता से जांच करवाए तो दूध का दूध व पानी का पानी सामने आ सकता है। बहरहाल, शासन मद से स्वीकृत हुए उक्त निर्माण को अधूरा छोड़ दिए जाने से ग्रामीण इसके निर्माण की बांट जो रहे हैं। वहीं दो वर्ष तक अधूरे पड़े इस निर्माण कार्य क्षतिग्रस्त हो चुका है और शासन का रुपया बर्बाद हो रहा है, लेकिन जिम्मेदार है कि इसकी कोई सुध नहीं ले रहे हैं।

^^^^---👇👇👇👇👇

समाचार एवँ विज्ञापन के लिए संपर्क करे 
🤳🏻🤳🏻🤳🏻🤳🏻🤳🏻
राज मेड़ा  7049735636
हरिश राठौड 7974658311

Post a Comment

Post Top Ad