Breaking

Thursday, February 13, 2020

हजारों की तादाद में कथा सुनने पहुंच रहे श्रद्धालु सात ...


  • दिवसीय भागवत में रोज बड़ रहा लोगो का  हुजूम।
  • जामली।गोपालो छलके अखियन मे,नंदलाला छलके अखियन मे....
  • एक मोह जीवन खराब कर देता है-पं कमलकिशोर जी नागर..         
जामली से जितेंद्र पाटीदार की रिपोर्ट

ग्राम जामली मे पं कमलकिशोर जी नागर के मुखारबिंद से भागवत कथा के दुसरे दिन भक्त भावविभोर हो गए।पांडाल मे नृत्य करते महिला एंव पुरुष भागवत भक्ति मे लीन हो गए।ग्राम जामली मे कथास्थल खेल मैदान मे श्रध्दालु बडी संख्या मे कथाश्रवण हेतु पहुंचे। मोह माया के बंधन से मुक्त होना है तो प्रभु भक्ति मे लगे रहना।मोह का बंधन समझना है तो माता जानकी से पुछो कि सोने की हिरन के मोह ने जीवन खराब कर दिया।माया ने किसी को नही छोडा।जीवन भर से आशा तृष्णा खत्म नही हो सकती,इसे तो प्रभु भक्ति से ही समाप्त किया जा सकता है।
       नीचे वाला तो पाखंडी है,भरोसा करना है तो उस ऊपर वाले का करना।राजस्थान के धन्ना सेठ की कथा सुनाई कि किस तरह धन्ना सेठ ने भगवान को पा लिया था,आज उसी धन्ना सेठ को जग पुज रहा है।जब धन्ना सेठ ने रेत बोकर फसल उगा ली।तब तुमको भी समझना पडेगा।प्रभु को जीवन आधार बनाना पडेगा।यह प्रवचन दुसरे दिन की कथा मे पं नागर जी द्वारा कहे गए।विद्वान वक्ता ने बताया कि कथा सुनने के लिए आते समय भी रुकावट होती है।किसी की सास ना आने दे,किसी की मां नही आने दे ऐसे तो रोज विध्न आएंगे तो प्रभु कैसे मिलेंगे।भागवत ही कलयुग की कावड़ है आप को भक्ति का सरोवर बना सकती है। कथा होने के बाद इस पंडाल की धूल किस पर पड़ जाए तो उसका भी कल्याण हो जाएगा।दिन बीत रहे है मानव जीवन मे जितना हो सके भजन कर लो तो जीवन सफल हो जाएगा।"भोर भजे भजन"तो  सीता राम पड़ोसी भी उठ कर यही कहेगा इसके सीता राम हमारी नींद हराम कर दी।जो कहे उसको कहने दो तुम बस भजन करो।भजन शुभ कार्य करो।पं नागर के सुमधुर भजनो पर कुछ श्रद्धालु भावविभोर हो नृत्य करने लगे।

Post a Comment

Post Top Ad