Breaking

Friday, February 28, 2020

दो दिवसीय कृषि मेले में किसानो को 22 करोड 48 लाख के ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरित...


पेटलावद से राज मेड़ा की रिपोर्ट

झाबुआ। कृषि विभाग द्वारा जिला स्तरीय दो दिवसीय कृषि विज्ञान मेला शुक्रवार को यंहा नवीन आजिविका कला दीर्घा भवन के सामने झाबुआ विधानसभा क्षेत्र के विधायक श्री कांतिलाल भूरिया के आतिथ्य में संपन्न हुआ। श्री भूरिया ने कार्यक्रम का शुभारंभ कृषि देवता भगवान बलराम एवं भगवान गणेष की मूर्ति पर माल्यार्पण एवं दीप  प्रज्जवलित  कर किया।  श्री भूरिया ने इस मेले में उपस्थित किसानो को संबोधित करते हुवे कहां कि शासन की मंशा है कि हर किसान आत्म निर्भर बने । खेती को लाभ का व्यवसाय बनाने के लिये हर संभव प्रयास किये जा रहे है। हर खेत को पानी मिले ऐसी परिस्थितीयाॅ निर्मित की जा रही है। श्री भूरिया ने कहां कि ग्रामीण जन अपने बच्चो को पढाई तभी बच्चे पढ लिखकर आगे बढेगे। ग्रामीणजन स्कूलो में शिक्षिको की उपस्थिती, माध्यान्ह भोजन कार्यक्रम तथा आगंनवाडी केन्द्रो में पोषण आहार योजना का प्रभावी क्रियान्वयन हो रहा है या नहीं इस पर कडी नजर रखे। श्री भूरिया ने कहां कि सरकार षहर के साथ-साथ गांव का भी विकास करना चाहती है। शहर के साथ गांव का विकास होगा तो जिले तथा प्रदेश का विकास होगा। श्री भूरिया ने किसानो से आव्हान करते हुवे कहां कि वे इस कृषि मेले में विभिन्न विभागों तथा कृषि क्षैत्र से जुडी संस्थाओ, उद्यामियो की प्रदर्शनियाॅ लगाई गई है। इन प्रदर्शनियों से प्रेरणा लेकर किसान कृषि के नये नये तरिको को अपना कर आत्मनिर्भर बने ।
      पेटलावद विधायक वालसिंह मेडा ने इस कृषि मेले को संबाधित करते हुव कहां कि राज्य शासन द्वारा किसानो का कर्ज माफ किया गया है। जिससे प्रात्र किसानो को इसका लाभ मिलेगा। किसान इस मेले में जो जानकारी प्राप्त की है वह अपने क्षेत्र में जाकर अन्य किसान भाईयों को बताये ताकि वे भी खेती करने के त्रिको में बदलाव लाकर आत्मनिर्भर बन सके। कार्यक्रम के प्रारंभ में उप संचालक एनएस रावत ने स्वागत भाषण देते हुवे किसानो से कहा कि शासन द्वारा किसानो के कल्याण के लिये अनेक योजनाऐ क्रियान्ववित की जा रही है। इन योजनाओं का जागरूक होकर लाभ उठाये। इस कृषि मेले में अनेक उत्पादो का प्रदर्शन किया गया है। इस संस्थाओ तथा किसानो से प्रेरणा लेकर किसानो को आत्मनिर्भर बनने के लिये प्रयास करना चाहिये।क्षैत्रीय विधायक भूरिया तथा पेटलावद विधायक मेडा तथा अन्य अतिथियों ने जय किसान ऋण माफी योजना के तहत 2916 किसानो को 22 करोड 48 लाख रूपये की राशि के ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरित किये । इसी प्रकार 6 हितग्राहियों को नलकूप योजना के तहत स्वीकृति पत्र तथा दे हितग्राहियो को बायोगैस संयत्र स्वीकृति पत्र वितरित किये। इस अवसर पर मत्स्य विभाग की निल क्रांति योजना के तहत 15 हितग्राहियो को मोटर साईकिल विथ आईस बाॅक्स वितरित किये। लभान्वित हितग्राहियों में 14 अनुसूचित जनजाति तथा 1 सामान्य वर्ग के हितग्राही शामिल है। इस कृषि मेले में लगाई गई स्टालो में उद्यानिकी विभाग को प्रथम वन एवं अनुसंसाधन झाबुआ को द्वितीय , कृषि विज्ञान केद्र झाबुआ को तृतीय पुरस्कार दिया गया। इसी प्रकार निजी संस्थाओ कृष्णा फाॅस्केम लिमि. मेघनगर को प्रथम अन्नद इरिगेशन सिस्टम खण्डवा को प्रथम चम्बल फर्टिलाईजर को द्वितीय तथा बालाराम पाटीदार प्रगतिसील कृषक को तृतीय पुरस्कार दिया गया। गैर शासकीय/एनजीओं में सूमिंटर इण्डिया को प्रथम, प्रतिभा सिंल्टेक्स को द्वितीय तथा आशा संस्था का तृतीय एवं प्रजापिता ब्रहमाकुमारी ईष्वरीय विष्व विद्यालय प्रथम पुरस्कार प्रदान किया गया। कार्यक्रम के प्रांरभ में अतिथ्यिाो ने इस कृषि मेल में लगाई गई प्रदर्षनिया का तथा स्टालो का अवलोकन किया।
    इस अवसर पर कलेक्टर प्रबल सिपाहा, सचिव विधिक सेवा प्राधिकरण अतुलकर  जिला युवक कांग्रेस अध्यक्ष विक्रांत भूरिया, अतुलकर  कृषि स्थाई समिति के अध्यक्ष रूपसिंग डामोर,  परियोजना संचालक आत्मा, श्री जीएस त्रिवेदी, कृषि विभाग के अधिकारी बडी संख्या में कृषक तथा ग्रामीण जन उपस्थित थे।

Post a Comment

Post Top Ad