Breaking

Friday, February 28, 2020

दिन के समय बाजार में भारी वाहन प्रवेश करने से ट्रैफिक व्यवस्था बदहाल, प्रमुख मार्गों पर चलना मुश्किल प्रतिबंधित समय में नगर में प्रवेश कर रहे भारी वाहन, ट्रैफिक पुलिस नहीं करती कोई कार्रवाई


थांदला।  नगरीय प्रशासन व पुलिस प्रशासन द्वारा भारी वाहन एवं यात्री बसों को बाइपास मार्ग से निकलवाना सुनिश्चित नहीं किया गया है, वही नगर में मुनादी करवाते हुए प्रातः 8 से सायं 8 बजे तक भारी वाहन एवं नगर में माल आदि खाली करवाना अथवा भरवाना प्रतिबंधित किये जाने के बावजूद नगर के प्रमुख मार्गों पर भारी वाहनों का प्रवेश जारी है व यहाँ तहाँ वाहन खड़े कर माल आदि भी लोडिंग हो रहे है, जिससे आये दिन एम जी रोड़, कुम्हार वाड़ा, जवाहर मार्ग, आजाद मार्ग, पिपली चौराहा, आदि प्रमुख मार्गों पर भारी वाहनों के प्रवेश होने से दुपहिया वाहन तो छोडि़ए लोगों को पैदल चलना भी दूभर हो रहा है व एक्सीडेंट की संभावना भी बड़ गई है। प्रमुख समाचार पत्र आदि द्वारा पयरकारों ने स्थानीय लोगों की बात जन समस्या के रूप में नगरीय प्रशासन व पुलिस प्रशासन से करते हुए नगर में भारी वाहनों के प्रवेश पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने की मांग की है व इसके दुरुपयोग करने वालों पर दण्डात्मक कार्यवाही की मांग की है। 
       यहां बता दें कि स्थानीय प्रशासन द्वारा सप्ताह भर से मुनादी व बोर्ड लगाकर सुबह आठ से रात आठ बजे तक नगर के प्रमुख मार्गों पर भारी वाहनों का प्रवेश पूर्णत: प्रतिबंधित किया गया है। इसके बाद भी न केवल यात्री बस अपितु भारी वाहन भी नगर की मेन रोड से ही निकल रहे है। बाजार वाले दिन मंगलवार को कुम्हारवाड़ा, पिपली चौराहा व आजाद चौक पर अनेक वाहन खड़े होकर सवारी भरने का काम करते है तो ट्रक मेटाडोर 407 जैसे वाहन में दुकानदार सामान उतारने व चढाने का काम करते है वही कई दुकानदारों ने अपना माल बाहर सड़कों पर 10 से 15 फिट तक बाहर लगा रखा है जिससे इन स्थानों पर घंटों तक जाम की स्थिति बनी रहती है। आवागमन की समस्या से जूझ रहे लोगों का कहना है कि जब तक भारी वाहनों को बाइपास से निकालना सुनिश्चित नहीं कराया जाएगा व चालानी कार्यवाही निरन्तर नही रहेगी तब तक नगर की ट्रेफिक व्यवस्था नहीं सुधर सकती। नगर में यातायात सुगम रखने के लिए प्रतिबंधित समय में भारी वाहन के प्रवेश पर पूर्ण प्रतिबंध लगाना आवश्यक है।

Post a Comment

Post Top Ad