Breaking

Tuesday, February 18, 2020

ग्राम जामली मे हुआ श्रीमद्भागवत कथा का समापन, हजारो की संख्या मे पंहुचे श्रद्वालु –

जामली से जितेंद्र पाटीदार की रिपोर्ट

 पेटलावद। ग्राम जामली मे श्रीमद् भागवत कथा के अंतिम दिन 30 से 35 हजार श्रद्धालु भागवत कथा का श्रवण करने पहुंचे। पंडित कमल किशोर जी नागर ने अपने मुखारविंद से प्रवचन देते हुए कहा कि आजकल लोग आय बढ़ाने का साधन जुटाने का कार्य करते हैं लेकिन अपनी उम्र बढ़ाने का कोई भी कार्य नहीं करते आज की स्थिति में 63 वर्ष काफी हो गए हैं पहले के जमाने में 100 वर्ष तक जीवित रहते थे लेकिन आज 63 वर्ष अंतिम हो गया है उसका कारण बुजुर्गों से आशीर्वाद नहीं लेते गाय माता के पांव नहीं छुते संतो से आशीर्वाद नहीं लेते हैं जिस तरह सरकार ने ₹1000 का नोट बंद कर दिया उसी तरह ऊपर वाले ने उम्र भी कम कर दी है उन्होंने कहा कि कभी भी किसी भी चीज में जिद नहीं करना चाहिए जिद हानिकारक होती है हमेशा नम्रता से ही बात करना चाहिए सुदामा ने भगवान कृष्ण से हमेशा यही मांगा की मुझ पर दया करना प्रभु ऐसा आप भी भगवान से यही प्रार्थना करना जिस घर में सहन करने की शक्ति होती है उस घर में कभी भी कलह नहीं होता ईश्वर ने सभी के लिए रोटी की व्यवस्था कर रखी है वह कभी भी किसी को भूखा नहीं सुलाता लोगो को कान से अच्छी बातें ही सुनना चाहिए ना की बुराई की दान पूर्ण करने के लिए व गरीबों की सेवा करने के लिए अपना ह्रदय बड़ा रखना चाहिए 
      कांतिलाल पाटीदार अपने पिताजी की स्मृति में श्रीमद्भागवत कथा आयोजन किया गया था जिसमें दूरदराज से आए हुए श्रद्धालु व समिति के सभी सदस्यों का आभार प्रकट किया भागवत कथा के अंतिम दिन रतलाम झाबुआ अलीराजपुर के सांसद गुमान सिंह डामोर व पूर्व केंद्रीय मंत्री व झाबुआ के विधायक कांतिलाल भूरिया कथा श्रवण करने के लिए पहुंचे 7 दिन तक गांव जामली में सुबह 4ः00 बजे से प्रभात फेरी निकाली जाती थी जिसमें श्रद्धालु भजन गाते हुए निकलते थे श्रद्धालु समाजसेवी गौतम गहलोत का गुणगान कर रहे हैं क्योंकि सातों दिन 10 बस प्रतिदिन श्रद्धालुओ को पेटलावद से कथा स्थल तक ले जाती थी ओर वापस उन्हें छोड़ती भी थी कथा में उनका गुणगान  करते रहे भक्तों ने उनके इस कार्य की सराहना भी की

^^^^^^-👇👇👇👇-^^^^

समाचार एवँ विज्ञापन के लिए संपर्क करे 
🤳🏻🤳🏻🤳🏻🤳🏻🤳🏻
राज मेड़ा  7049735636
हरिश राठौड 7974658311

Post a Comment

Post Top Ad