Breaking

Saturday, February 22, 2020

झोलाछाप डॉक्टरों की भरमार है, जगह-जगह अपने क्लीनिक संचालित कर यह अवैध झोलाछाप डॉक्टर मरीजों की जान के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं


थांदला से इमरान खान की रिपोर्ट


थांदला। झाबुआ जिले में झोलाछाप डॉक्टरों की भरमार है, जगह-जगह अपने क्लीनिक संचालित कर यह अवैध झोलाछाप डॉक्टर मरीजों की जान के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं किंतु प्रशासन जानबूझकर अनजान बना हुआ है। क्षेत्र के भोले वाले ग्रामीण भी इन झोलाछाप डॉक्टरों के झांसे में आकर इलाज करवा रहे हैं, बिना डिग्री के ही यह झोलाछाप डॉक्टर मरीजों को अपने क्लीनिक पर ही बोतल आदि चढ़ा देते हैं और छोटे से क्लीनिक को मैं मरीजों के लिए बॉटल चढ़ाने की व्यवस्था भी की जाती है , साथ ही दवाई गोली भी कहीं बाहर से लेने की आवश्यकता नहीं पड़ती क्योंकि इनके क्लीनिक पर दवाई गोली भारी मात्रा में उपलब्ध रहती है । थांदला में भी एक ऐसा ही नजारा गांधी चौक में देखने को मिला जहां पर एक झोलाछाप डॉक्टर बिना डिग्री से इलाज कर रहा है ,बकायदा इसके क्लीनिक पर मरीजों को बोतले भी चढ़ाई जाती है और दवाइयां भी यहीं से उपलब्ध हो जाती है । मामले की जानकारी स्थानीय प्रशासन को होने के बावजूद भी इन अवैध झोलाछाप डॉक्टरों पर कोई कार्रवाई नहीं की जाती और प्रशासन इनके खिलाफ कार्रवाई करने से भी कतरा रहा है  । झाबुआ जिले में इन झोलाछापो के गलत इलाज से कई बार मासूम ग्रामीण मौत के गाल में भी समा चुके हैं ,फिर भी प्रशासन अपनी नींद से नहीं जाग रहा है, शायद पुनः किसी बड़ी घटना का इंतजार प्रशासन कर रहा है । ग्रामीण अंचल से आने वाले भोले-भाले लोग इनके झांसे में आकर इलाज करवा रहे हैं, जिससे हमेशा ही उनकी स्वास्थ्य व जान को खतरा उत्पन्न हो सकता है। राजनीतिक संरक्षण के चलते इन झोलाछापो के विरुद्ध कोई कार्रवाई नहीं होती है।
^^^^-----👇👇👇👇👇



समाचार एवँ विज्ञापन के लिए संपर्क करे 

🤳🏻🤳🏻🤳🏻🤳🏻🤳🏻
राज मेड़ा  7049735636
हरिश राठौड 7974658311

Post a Comment

Post Top Ad