Breaking

Sunday, February 23, 2020

वार्षिक उत्सव के समापन पर बोले प्रदीपसिंह तारखेड़ी......

पेटलावाद से हरिश राठौड की रिपोर्ट

झकनावदा/उमरकोट -सांई विनायक पब्लिक स्कूल उमरकोट में शनिवार शाम को वार्षिकउत्सव सांस्कृतिक समारोह का आयोजन हर्षोल्लास से किया गया कार्यक्रम में मुख्य अतिथि  श्री विक्रमसिंह मेड़ा यु.का.अध्यक्ष विधानसभा पेटलावद,पूर्व जनपद उपाध्यक्ष प्रदीपसिंह तारखेड़ी और रतनसिंह बिलवाल आयुक्त राज्य कर ग्वालियर थे विशेष अतिथि के रूप में सांसद प्रतिनिधि राजेश काॅसवा ,  युवा नेता ठाकुर परीक्षितसिंह राठौर झकनावदा,लालाश उमरकोट, झकनावदा  ब्लॉक कांग्रेस के कार्यवाहक अध्यक्ष कालूसिंग बिलवाल, जनपद सदस्य सरदारसिंह डोडीयार,बीआरसी कार्यालय रामा से श्री इलियास खान , केशर भाई और संकुल उमरकोट से सुशील सिंगार के अलावा उमरकोट से राजेन्द्रसिंह कुशवाह,
डाॅ.नंदराम शंखवार पुर्व बीएमओ रामा,
डाॅ.अजीत भार्गव ,डाॅ.बी एस राठोड़,चौकी प्रभारी सुश्री दिव्य ज्योति गोयल आदि उपस्थित थे। स्कूल संचालक  मंडल की ओर से अतिथियों का साफा पहनाकर साल और स्मृति चिन्ह भेंट कर स्वागत किया गया  बच्चों ने बड़े ही सुंदर और मार्मिक नृत्य नाटक व अन्य सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी अतिथियों द्वारा बच्चों को उनकी प्रस्तुतियो और प्रतिभाओं के लिए बहुत सराहना की और अपनी प्रतिभाओं को निरंतर प्रयास करते हुए उच्च स्तरीय बनाने के लिए प्रेरित किया और मुख्य अतिथि महोदय श्री रतनसिंह बिलवाल  आयुक्त राज्य कर ग्वालियर द्वारा बच्चों को शिक्षा का महत्व समझाते हुए कहा कि -- शिक्षा शेरनी के दूध के समान है ,जो पिएगा वो दहाड़ेगा अर्थात अच्छी शिक्षा हासिल करने से व्यक्ति का मान और नाम यानि गौरव बढ़ जाता है ,उसका कद यानि हैसियत,जिसे अंग्रेजी में स्टेटस कहते हैं ,वह हैसियत बहुत ऊंची हो जाती है । साथ ही उन्होंने उमरकोट में शिक्षा और जीवन निर्माण के लिए लोगों में पीढ़ियों से ललक भरी हुई है यह बात भी कही और कुछ नामों के उदाहरण से यह स्पष्ट  किया। उन्होंने आगे कहा कि उमरकोट क्षैत्र  प्रतिभाओं का धनी है , यहां से कई प्रतिभाओं ने  क्षितिज तक उभर कर उमरकोट के नाम को गौरवान्वित ही नही,बल्कि क्षैत्र के नाम को इतिहास में दर्ज कराया है।  मुख्य अतिथि महोदय के प्रतिनिधि के रुप में विधायक महोदय पेटलावद के बेटे श्री विक्रमसिंह जी मेड़ा उपस्थित हुए  शेष सभी मुख्य अतिथि और विशेष अतिथि उपस्थित होकर कार्यक्रम में बच्चों को उत्साहवर्धन किया, प्रेरणादायक शब्दों द्वारा जीवन में शिक्षा के महत्व को प्रतिपादित किया । और सांई विनायक पब्लिक स्कूल के द्वारा बच्चों की शिक्षा , संस्कार निर्माण और जीवन में सुसंस्कृति के महत्व का छात्रों को बोध कराकर लगातार बच्चों के अच्छे भविष्य निर्माण के लिए किये गये प्रयासों की सराहना की । बच्चों द्वारा दी गई प्रस्ततुतियों को भी सभी अतिथियों और उपस्थित जनसमुदाय ने सच्चे दिल से सराहा, एंव ठाकुर प्रदीपसिंह तारखेड़ी ने कहा कि आज यहां जो बच्चों ने इतनी सुंदर कलात्मक  और प्रभावशाली सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी है उन्हें देखकर हम कह सकते हैं कि यह किसी बड़े शहरों के बच्चों के द्वारा दी जाने वाली प्रस्ततुतियों के समान लग रही है और यह हम सोच नहीं सकते कि  यह उमरकोट क्षैत्र के बच्चों का प्रदर्शन हो रहा है । उमरकोट जैसे ग्रामीण क्षैत्र में बच्चों द्वारा इतना बढ़िया प्रर्दशन किया गया जो कि  बहुत  कम समय की मेहनत, कम प्रशिक्षण,और घर- परिवार से कम सपोर्ट और कम संसाधन मिलने के बावजूद यदि यहां के  बच्चों को आगे बढ़ने के लिए मौका दिया जाए तो निश्चित रूप से यहां के बच्चे जिले में ही नहीं ,वरन प्रदेश और देश में अपना,अपने परिवार और अपने क्षैत्र का नाम रोशन कर सकते हैं । सभी अतिथियों ने बच्चों को शुभाशीष दिया और जीवन में आगे बढ़ने के लिए  निरंतर प्रयास करते रहने के लिए बच्चों के मन मस्तिष्क में सजगता के भाव भरे इस अवसर संदीप कुशवाहा,रामसिंह तोमर ,भग्गाजी काग,राजेंद्र पंचाल , रामसिंह कामदार , शंभुलाल राठोड़ , नारायण परमार , बाथुसिंह वास्केल , महेश डामोर,आयदान चौधरी , मनोहर भाई सेमलघाटा , गोविंद सांकला , भूरालाल सलाया ,ललित कोठारी , संतोष वराण , विष्णु नगारची , हरिराम चोयल आदि अनेक ग्रामवासी उपस्थित थे। कार्यक्रम संचालन मोहनलाल चौधरी,सुधा कामदार व  दिनेश कामदार ने किया  आभार सुरेश परमार ने माना ।

---------/////////////

समाचार एवँ विज्ञापन के लिए संपर्क करे 
🤳🏻🤳🏻🤳🏻🤳🏻🤳🏻
राज मेड़ा  7049735636
हरिश राठौड 7974658311

Post a Comment

Post Top Ad