Breaking

Tuesday, February 11, 2020

न्यायालय में विटनेस हेल्प डेस्क से मिलेगी पीड़ित व गवाहों को सहायता।...


पेटलावाद से हरिश राठौड की रिपोर्ट

न्यायालय में विटनेस हेल्प डेस्क से मिलेगी पीडि़त व गवाहों को सहायता प्रदेश के 51 जिलों में प्रारंभ हो गई है डेस्क की सुविधा, झाबुआ में शुरू हुआ, गवाह सहायता केन्द्र का संचालन

झाबुआ। फरियादी व उसके समर्थन में साक्षी जब पुलिस थाने मेें रिपोर्ट दर्ज करता है उसके बाद न्यायालयीन प्रक्रिया में फरियादी व साक्षी को न्यायालय में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इन परेशानियों से निजात दिलाने के लिए न्यायालय ने एक विटनेस हेल्प डेस्क बनाया है, जिससे फरियादियों व गवाहों को आवश्यक जानकारी दी जाएगी इसके साथ ही उन्हें संबंधित न्यायालय कक्ष में पहुंचाया जाएगा।
     श्री एस.एस.खिंची जिला लोक अभियोजन अधिकारी द्वारा बताया गया कि अधिकांश जब पीडि़त या गवाह न्यायालय में जाते है तब उन्हें कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है इसी को ध्यान में रखते हुए मप्र लोक अभियोजन विभाग द्वारा पीडि़त एवं गवाहों की सहायता  के लिए एक नई पहल विटनेस हेल्प डेस्क (गवाह सहायता केन्द्र) की स्थापना की गई। 9 फरवरी को विटनेस हेल्प डेस्क प्रशिक्षण का उद्घाटन पुरूषोत्तम शर्मा, महानिदेशक/संचालक म.प्र. लोक अभियोजन अनिल वर्मा प्रिंसीपल रस्ट्रिार मप्र उच्च न्यायालय खण्डपीठ इन्दौर, के द्वारा किया गया। जिसमें जिले विटनेस हेल्प डेस्क प्रभारी संजय वसुनिया द्वारा प्रशिक्षण प्राप्त किया गया। पुरूषोत्तम शर्मा महानिदेशक/संचालक म.प्र. लोक अभियोजन ने विटनेस हैल्प डेस्क ऐप्लीकेशन के महत्व को बताते हुए व्यक्त किया कि यह सुविधा देश में पहली बार मध्यप्रदेश में लागू की गई है। अनिल वर्मा प्रिंसीपल रजिस्ट्रार मप्र उच्च न्यायालय खण्डपीठ इन्दौर द्वारा बताया गया कि जिला न्यायालय द्वारा समस्त समंस/वारंट विटनेस हेल्प डेस्क का नम्बर देने की बात कही गई। जिले विटनेस हेल्प डेस्क प्रभारी संजय वसुनिया जिनके द्वारा पीडि़त एवं गवाह संपर्क कर सहायता प्राप्त कर सकते है

Post a Comment

Post Top Ad