Breaking

Thursday, February 27, 2020

प्रज्ञा डेयरी ठगी कांण्ड का एक और आरोपी चढ़ा पुलिस के हत्थें...... पुलिस को मिली एक दिन की रिमांड़..... हो सकते है और भी खुलासें......

पेटलावद से हरिश राठौड़ की रिपोर्ट
पेटलावद। क्षेत्र के मशहुर ठगी काण्ड़ प्रज्ञा डेयरी के नाम से संस्था बनाकर क्षेत्र के भोले भाले आदिवासी कृषकों की मेहनत की कमाई को ठगकर लाखों करोड़ो के व्यारे न्यारे करने वाले प्रज्ञा डेयरी के आरोपियों में से एक आरोपी अंसार अहमद निवासी इंदौर को पेटलावद की एसडीओपी बबीता बामनिया के द्वारा गिरप्तार करते हुए न्यायालय में पेश किया।

क्या है मामला...

वर्ष 2016 में फरियादी दयाराम पिता शंभु गामड़ निवासी गोठानिया कला के द्वारा पुलिस थाने में रिपोर्ट देते हुए बताया था कि ग्राम बनी के रहने वाले पुनमचन्द्र पाटीदार एवं उनके साथियों द्वारा प्रज्ञा डेयरी नामक संस्था बनाकर सदस्यों को जोड़ा गया और सदस्यों से 11 हजार रूपयें प्रतिवर्ष के मान से 5 वर्ष तक जमा कराने के बाद जमा राशि पर बोनस देने की बात कहते हुए रूपयां एैंठा है और मेरे द्वारा 5 वर्ष तक रूपयें जमा करने के बाद आज पुनमचन्द्र और उसके साथ रूपयें देने से इंकार कर रहे है। फरियादी शंभु गामड़ की रिपोर्ट पर पुलिस थाना रायपूरिया के द्वारा वर्ष 2016 में भादवी की धारा 420 एवं 34 पर मुकदमा दर्ज करते हुए विवेचना शुरू की थी।

यह रहे मुख्य आरोपी....

पुलिस के द्वारा जांच के दौरान नानालाल पिता नारायण पाटीदार निवासी बनी, पुनमचन्द्र पिता रणछोड पाटीदार निवासी बनी, कालुराम पिता पुनमचन्द्र पाटीदार निवासी बरवेट, अंबाराम पिता शंभु लाल पाटीदार निवासी बनी, नितेश पिता पुनमचन्द्र पाटीदार निवासी गंधवानी, रामचन्द्र पिता चंपालाल पाटीदार निवासी बनी, राजेश पिता कचरूलाल जैन निवासी रतलाम एवं अंसार पिता छोटे खॉ मुसलमान निवासी इंदौर को आरोपी बनाते हुए कार्रवाई शुरू की थी जिसमें से कई आरोपी अभी भी जैल में है वहीं पुलिस के द्वारा आज आरोपी अंसार पिता छोटे खॉ मुसलमान को गिरप्तार कर न्यायालय मे पेश किया।

न्यायालय ने दी एक दिन की रिमांड.....

पुलिस के द्वारा विवेचना के दौरान पुलिस अधिक्षक झाबुआ की अनुशंसा पर आरोपीयों के विरूद्ध म.प्र. निक्क्षेपों के हितो का सरंक्षण अधिनियम वर्ष 2000 की धारा 6 में भी जांच आगे बडाते हुए शुक्रवार को आरोपी अंसार खॉ को अपर सत्र न्यायाधीश जेसी राठौर के न्यायालय मे पेश करते हुए आरोपी से पुछताछ हेतू समय मांगा जिस पर न्यायालय द्वारा सहायक लोक अभियोजन अधिकारी पीएल चौहान के तर्को से सहमत होते है पुलिस को पुछताछ के लिए आरोपी अंसार को एक दिन की रिमांड पर सोंपा है। पुलिस के द्वारा यदि सख्ती से पुछताछ की जाती है तो इस मामले में और कई खुलासे होने की संभावना है।

Post a Comment

Post Top Ad