Breaking

Friday, March 6, 2020

माहीं का पानी मिलेगा पेटलावद को.......अब नहीं जुझना होगा जल संकट से क्यां यह है पेटलावद के लिए स्थाई हल..?







पेटलावद से हरिश राठौड़ की रिपोर्ट

पेटलावद। नगर में बिते वर्ष भंयकर जल समस्या का दौर आया था, जिसमे नगर के बाशिंदे 90 दिनों तक पेयजल समस्या से जुझते रहे। इस वर्ष मिडि़या द्वारा सक्रियता दिखाकर प्रशासन को समय पूर्व चेताया गया और बिते वर्ष की पेयजल समस्या की याद दिलाई गई, जिस त्वरीत कार्रवाई करते हुए जिला कलेक्टर प्रबल सीपाहा के निर्देश पर पेटलावद एसडीएम एमएल मालवीय ने माहीं परियोजना के अधिकारियों के साथ मिलकर आज दिनांक 6 मार्च को माहीं की नहर से पेटलावद चोरबोराली बांध में जाने वाले गेट को खुलवाया, जिससे माहीं का पानी पेटलावद चोरबोराली बांध में पहुंचा। एसडीएम की इस कार्रवाई पर नगरवासियों ने मुक्तकंठ से प्रशंसा की।.

पानी सहेजना एक बड़ी चुनोती.....

प्रशासन की त्वरीत कार्रवाई से चोरबोराली बांध में पानी तो पहुंच गया है किन्तु इसे सहजकर रखना भी एक बड़ी चुनोती है, जिसके लिए नगर परिषद, सिंचाई विभाग को पुलिस प्रशासन से सहयोग लेकर पानी की चोरी पर अंकुश लगाना  होगा जिससे नगर को पेयजल की समस्या से नहीं जुझना पडें। जैसे हीं नगर परिषद को इस बात की सुचना मिली की पानी छोड दिया गया है तब अध्यक्ष व पार्षद उस स्थल पर पहुंचे जहां से चोरबोराली के लिए पानी छोड़ा गया है। उन्होने उस मार्ग को भी देखा जिस रास्ते से पानी चोरबोराली बांध तक पहुंचेगा।

रूपारेल बना जक्शन.....

रूपारेल में नहर का जक्शन बनाया गया जहां पर नहर पर तीन गेट लगायें गयें है,जिसमें पहला गेट खोलने पर पानी जामली को मिलेगा, दुसरा गेट खोलने पर पेटलावद पेयजल के लिए बांध में पानी आयेंगा,  व तीसरा गेट खोलने पर रायपूरिया क्षेत्र में सींचाई के लिए पानी जाएगा। इस जक्शन से पेटलावद को पेयजल के लिए पानी तो मिलेगा किन्तु यह स्थाई हल नहीं है, यहां से पेटलावद बांध तक पानी पहुचाने में बड़ी मशक्त करना होगी, फिर भी पेयजल की समस्या से जुझा जा सकता है। इसके लिए नगर परिषद को पेटलावद की पेयजल समस्या का स्थाई हल खोजना होगा।

कलेक्टर की सक्रियता से मिला पानी....

नगर परिषद सीमएओं लालसिंह राठौर ने नगर की पेयजल समस्या व इसके लिए निदान के रूप में माहीं से पानी लाने की बात साप्ताहिक वीसी में कलेक्टर प्रबल सीपाहा के समक्ष रखी थी, जिस पर कलेक्टर सीपाहा ने त्वरीत कार्रवाई करते हुए एसडीएम व माहीं के अधिकारियों को निर्देश देकर पेटलावद की पेयजल समस्या के निदान हेतू माही से पानी देने की बात कहीं थी। इस संबंध में सीमएओं राठोर ने बताया कि हमारें द्वारा पेयजल समस्या से निपटने के लिए पूर्व तैयारिया की जा रहीं है जिसके तहत हमने कलेक्टर महोदय के समक्ष भी बात रखी थी और उन्होने सक्रियता दिखाते हुए त्वरीत कार्रवाई कर चोरबोराली बांध के लिए माही से पानी छुड़वाया। 
यह होगा स्थाई हल....

पेटलावद नगर को आने वाले 25 सालों तक पेयजल समस्या से छुटकारा दिलाना है तो उसका स्थाई हल निकालना होगा और स्थाई हल करने के लिए माहीं डेम से अलग से पाईप लाईन चोरबोराली बांध या फिल्टर प्लांट तक लाना होगी, जिसके लिए नगर परिषद को 5 करोड़ से अधिक की राशि भी खर्च करना होगी तभी इस समस्या का स्थाई हल निकल सकता है।

पिछले वर्ष भी खोले थे गेट....

उल्लेखनिय है कि पिछले वर्ष भी जनवरी माह में हीं नहर के गेट खोले गयें थे किन्तु पेटलावद को पेयजल समस्या से जुझना पड़ा था,क्या इस बार गेट खुलने पर नगर को भरपुर पानी मिल पायेगा या पिछले वर्ष जैसी हीं समस्या का सामना करना पडेगा ?


👇🏻👇🏻👇🏻👇🏻👇🏻👇🏻👇🏻👇🏻

समाचार एवं विज्ञापन के लिए संपर्क करे 
🤳🏻🤳🏻
राज मेड़ा :- 7049735636
हरिश राठौड़  7974658311


Post a Comment

Post Top Ad