Breaking

Thursday, March 12, 2020

कोरोना वायरस की भी परवाह नहीं नगर परिशद को.... खुले में बिक रहा अवैध मांस मटन......





पेटलावद से हरिश राठौड़ की रिपोर्ट

पेटलावद। कोरोना वायरस के कहर से पुरा विश्व घबरा रहा है, किन्तु पेटलावद नगर परिषद के जिम्मेदारों को चिंता हीं नहीं है। पेटलावद नगर में अवैध रूप से मांस का कारोबार फल फुल रहा है जो कि आमजन के स्वास्थ्य पर विपरित प्रभाव डाल सकता है। नगर के राजापुरा और गांधी चौक इलाके में खुले में बिना किसी सुरक्षा के मांस का विक्रय किया जा रहा है जो कि वायरस को फैलाने का काम कर सकता है, वहीं बाहर से आने वाले बायलर मुर्गिया भी खुली गाड़ी में शहर के अंदर लाई जा रहीं है जो कि पुरे क्षेत्र को बदबु से सरोबार कर देती है और उनके शरीर से उड़ने वाले पंख लोगो के घरों में घुस रहे है और कई तरह की बिमारिया को न्योता दे रहे है। इतना सब कुछ होने के बावजुद भी नगर परिषद के जिम्मेदार इस और आंखे मुंदे बैठे है, नगर में अवैध रूप से मांस का कारोबार चल रहा है जो कि नगर परिषद की जानकारी में है किन्तु आज तक जनहित को देखते हुए एक भी कार्रवाई नहीं की गई है।

स्लाटर हाउस विरान पड़ा......

नगर में मेला ग्राउंड रोड़ पर नगर परिषद के द्वारा 15 लाख रूपयें खर्च कर 10 वर्ष पहले स्लाटर हाउस का निर्माण किया गया था जहां पर मांस विक्रय करने वाले लायसेंसधारियों को बिठाया जाना था किन्तु 10 वर्ष बाद भी उक्त स्लाटर हाउस विरान पड़ा है। इस संबंध में नागरिको ने सेंकड़ों बार नगर परिषद से लेकर कलेक्टर तक शिकायत की किन्तु कुम्भकर्णिय निंद सोयें नगर परिषद के जिम्मेदारों के उपर कोई असर नहीं हुआ। अवैध रूप से खुले में मांस का विक्रय नागरिको की स्वास्थ्य के साथ सीधा-सीधा खिलवाड़ है। सुत्रों की माने तो कोरोनो वायरस के किटाणु खुले मॉस व बायलर मुर्गियों के द्वारा भी फैल सकते है, इसलिए नागरिको की मांग है कि जहां पुरा विश्व कोरोना वायरस से बचने के लिए कई तरह के उपाय कर रहा है, वहीं नगर परिषद पेटलावद को भी मानवता को ध्यान में रखते हुए अपने नागरिको की सुरक्षा के लिए खुले में बिक रहे मॉस मटन की दुकानों पर प्रतिबंध लगाना चाहिए और खुले रूप से लाई जा रहीं बायलर मुर्गियों की गाडि़या का नगर में प्रवेश प्रतिबंधित करना चाहिए। इसके साथ हीं 13 फरवरी को वार्ड नंबर 13 के रहवासियों ने मॉस की दुकानें हटाने के लिए आवेदन दिया था जिस पर केवल आश्वास दिया गया किन्तु आज तक कोई कार्रवाई नहीं हुई।

बिना परिक्षण कट रहे जानवर.....

मॉस विक्रेताओं के द्वारा जानवरों का बिना परिक्षण करवायें हीं उन्हें काटा जा रहा है, जबकि नियमानुसार पहले जानवर का परिक्षण होना चाहिए की वह किसी बिमारी से ग्रसित तो नहीं है लेकिन सभी निमयों को ताक में रखते हुए मॉस विक्रेताओं के द्वारा लोगो के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। पुरी स्थिती से वाकिफ होने के बाद भी जिम्मेदार इस और कोई ध्यान नहीं दे रहे है।

इनका है कहना.......

इस संबंध में नगर के नागरिक अशौक का कहना है कि मांस विक्रेताओं के द्वारा खुले में मॉस बेचा जा रहा है जिससे हमारें स्वास्थ्य पर भी बुरा असर पड़ सकता है, उसके बाद भी नगर परिषद के द्वारा इस और कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है।
इस संबंध में नगर परिषद सीएमओं लालसिंह राठौर ने बताया कि हमारें द्वारा मॉस विक्रेताओं को नोटीस देकर दुकानें स्लाटर हाउस में लगाने के निर्देश दियें गयें है।


Post a Comment

Post Top Ad