Breaking

Monday, May 25, 2020

फ़ोटो ग्राफरो ने दिया ज्ञापन....मजबूत योजना बनाने की मांग....



पेटलावद से हरिश राठौड़ की रिपोर्ट

पेटलावद। कोरोना संक्रमण काल ने हर व्यवसाय हर वर्ग के लिए परेशानियां खड़ी कर दी। इसमें से फ़ोटो ग्राफर व वीडियो ग्राफर से जुड़े लोगों पर भी आर्थिक तंगी का गहरा संकट उत्पन्न हुआ है।  जिला फोटोग्राफर एसोसिएशन झाबुआ के नेतृत्व में सोमवार को पेटलावद के फोटो ग्राफर ने नायब तहसीलदार को मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन दिया गया, जिसमें बताता की वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण के चलते पूरे देश मे टोटल लॉक डाउन की वजह से आदिवासी बाहुल्य जिले झाबुआ में फोटोग्राफी, वीडियो ग्राफी व्यवसाय से जुड़े स्टूडियो, आउटडोर, फोटोग्राफर, वीडियो ग्राफर व अन्य सहयोगियों के सारे मांगलिक एवं अन्य कार्यक्रमों की बुकिंग निरस्त हो चुकी है। कई फोटो व वीडियो ग्राफर के अपने व परिवार के पालन पोषण के लिए इस व्यवसाय के अलावा अन्य कोई साधन नही है। वही लॉक डाउन के चलते उनकी आये के साधन बन्द हो गए है, ऐसे में घर चलाना मुश्किल हो गया है। साथ ही कई फोटोग्राफर ने बैंको के माध्यम से लोन ले रखा है जिसकी किश्ते भी नही जमा कर पा रहे है। फोटोग्राफर व वीडियो ग्राफर ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन देते हुए मांग की है कि फोटोग्राफी व्यवसाय के भविष्य के लिए भी कोई मजबूत योजना बनाकर सहयोग किया जाए जिससे कि ऐसे समय मे उन्हें किसी परेशानी से नही गुजरना पड़े।
पडियार डिजिटल स्टूडियो के मोहन पडियार ने बताया कि हमारे पास फोटोग्राफी के अलावा कोई अन्य कार्य नही है। तथा कार्यक्रमों में वीडियो व फोटोग्राफी का काम पूरा होने के बाद ही हमे रुपया मिलता है। वर्तमान में हमारे पास कोई काम नही है, ऐसे में सरकार को हमारे बारे में सोचकर आर्थिक मदद के साथ ही भविष्य के लिए एक मजबूत योजना बनाई जाए ताकि हमे किसी संकट का सामना नहीं करना पड़े। ज्ञापन देते समय पेटलावद नगर के समस्त फोटोग्राफर उपस्थित थे।

Post a Comment

Post Top Ad