Breaking

Sunday, May 31, 2020

पेटलावद ग्रामीण मण्डल अध्यक्ष की दोड़ में यह चेहरें...... ग्रामीण क्षेत्रों में भाजपा की मजबुती के लिए चुनना होगा दमदार चेहरा.......




पेटलावद से हरिश राठौड़ की रिपोर्ट

पेटलावद। झाबुआ जिले में भारतीय जनता पार्टी पिछले 18 वर्षो से अपने कदम मजबुती के साथ गाड़ चुकी है, एक समय भाजपा के झण्डे, बेनर लगाने के लिए और कार्यकर्ताओं को बैंठक करने के लिए बड़ी मशक्कत करना पड़ती थी, उन दिनों भाजपा को घर-घर और व्यक्ति-व्यक्ति तक पहुंचाने में और ग्रामीण क्षेत्रों में भाजपा का अलख जगाने में कई लोगो ने अपना अमुल्य योगदान दिया है जिसके चलते आज भाजपा राष्ट्र की सबसे बड़ी और सबसे अधिक पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं वाली पार्टी के नाम से जानी पहचानी जा रहीं है, जैसे-जैसे पार्टी का वर्चस्व बड़ता जा रहा है, वैसे-वैसे इस पार्टी से जुडने और पार्टी के पदों पर बैठने वाले लोगो की भी संख्या बड़ती जा रहीं है। अब पार्टी में पद पाने के लिए कई प्रकार की योग्यता और मापदण्डो से होकर गुजरना पड़ रहा है। कुछ समय पूर्व हीं जिले में नयें जिलाध्यक्ष की नियुक्ति हुई है। नगरिय और ग्रामीण मण्डलो के अध्यक्षों की नियुक्ति और जिला कार्यकारिणी के विस्तार की सुगबुहागट चल रहीं है। कुछ समय पूर्व पेटलावद के नगरिय मण्डल अध्यक्ष के दावेदारों को जनता के सामने लाने के बाद अब हम आपके सामने पेटलावद ग्रामीण मण्डल अध्यक्ष के दावेदारों से रूबरू करवा रहे है।

1 - सुखराम मोरी....
माहीं किनारें रहने वाले इस युवा नेता ने पिछले कुछ सालों में भाजपा और संगठन की सेवा करते हुए न सिर्फ सरपंच पद पर अपनी पकड़ मजबुत की है , बल्की सारंगी से लेकर माहीं किनारे एवं करवड़ व रानिसिंग तक के लोगो को संगठन और भाजपा से जोड़कर मजबुत कार्यकर्ताओं की टीम खड़ी की हैं वहीं वर्तमान ग्रामीण मण्डल अध्यक्ष कृष्णपालसिंह गंगाखेड़ी सहित सुरेन्द्रसिंह मोटापाला और सासंद गुमानसिंह के विश्वास पात्रों में गीने जाने वाले इस युवा को संगठन की वन्दे मातरम के नाम से कावड़ यात्रा निकाल कर युवा वर्ग को पार्टी से सीधा जोड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, और ग्रामीण मण्डल अध्यक्ष पद के लिए सबसे मजबुत दावेदार माने जा रहे है।

2- तेजमल सोलंकी.....
पेटलावद विकासखण्ड की बड़ी देहण्डी के निवासी तेजमल सोलंकी ने वर्ष 2001 में संगठन से जुड़कर सेवा भारती व संघ की शाखाओं में अपनी सेवाएं देने के अलावा बामनिया संकुल के सहसंयोजक के रूप में रह चुके इस युवक ने ग्रामीण मण्डल में मंत्री के पद पर रहकर भाजपा और संगठन को मजबुत किया है। संगठन और सेवा भारती से जुडे लोगो में इनका नाम सबसे आगे इस पद के लिए माना जा रहा है।

3- शुभाष राठौड़......
करड़ावद, टेमरिया और देहण्डी क्षेत्र में युवा कार्यकर्ताओं की फोज खड़ी करने वाले इस युवा नेता को पिछड़ा वर्ग और राठौड़ समाज के प्रतिनिधित्व का लाभ मिल सकता है, यदि ग्रामीण मण्डल का विस्तार होता है तो पिछड़ा वर्ग को साधने में इस नवयुवक की महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी और भाजपा सबसे बडे वोट बेंक को साधने के लिए इन्हें मौका दे सकती है।

4 - ब्रजभुषणसिंह परिहार.....
गुड्डु भेया के नाम से बामनिया क्षेत्र में पहचाने जाने   वाले इस युवा नेता ने पार्टी व संगठन में अपना अमुल्य योगदान दिया है, बामनिया, करवड़, अमरगढ़, गोदडि़या आदि क्षेत्रों में लगभग 20 वर्षो से भाजपा का जाना पहचाना चेहरा होने के साथ शांतिलाल बीलवाल जब भाजपा युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष थे तब उनके साथ उपाध्यक्ष के रूप में अपनी सेवाएं देने वाले और पूर्व में ग्रामीण मण्डल महामंत्री व मण्डल उपाध्यक्ष के पद पर काम करने के अलावा वर्ष 2008 व2013 में विधानसभा चुनाव के समय विधानसभा चुनाव प्रभारी के रूप में काम करते हुए विभिन्न पदों पर अपनी सेवाएं देने के अलावा वर्तमान में बामनिया और आसपास के कई नयें चेहरों को भाजपा से जोड़ने और पुराने कांग्रेसियों को भाजपा की सदस्यता दिलाने वाले इस युवा नेता ने कांग्रेस के शासनकाल में कांग्रेस की कद्ावर नेता और जोबट की वर्तमान विधायक कलावती भूरिया का बामनिया क्षेत्र में विरोध करते हुए भाजपा को काफी फायदा पहुचाया है, और इनकी पुरे क्षेत्र में पकड़ के चलते हुए भाजपा को हर चुनाव में बुथ वाईस बड़त दिलाने वाले इस अनुभवी चेहरें को यदि संगठन इन पर ग्रामीण मण्डल अध्यक्ष का भार सोंपते है तो इससे ग्रामीण क्षेत्रो मे ंभाजपा और ज्यादा मजबुत हीं होगी। 


Post a Comment

Post Top Ad