Breaking

Friday, June 19, 2020

सेल्समेनों को सता रहा कोरोना का भय.... पीएसओं मशीन पर अंगुठा लगाने के बाद वितरीत हो रहा राशन....

सेल्समेनों को सता रहा कोरोना का भय....  पीएसओं मशीन पर अंगुठा लगाने के बाद वितरीत हो रहा राशन....
     फोटो  अंगुठा लगाने के बाद दियाजा रहा राशन


पेटलावाद से हरिश राठौड़ की रिपोर्ट

पेटलावद। कोरोना का खतरा टला नहीं है, इससे बचाव के लिए सबसे महत्वपूर्ण एक मात्र उपाय सामाजिक दुरी तथा मुंह पर मास्क पहनना, बार-बार साबुन से अपने हाथ धोना, एक दुसरे से नमस्कार का अभिवादन करना है जैसी महत्वपूर्ण सावधानिया हीं लोगो को कोरोना संक्रमण से बचा सकती है। लॉक डाउन के बाद अनलॉक-1 में सरकार ने कई प्रकार की छुट लोगो को प्रदान की है जिसके बाद बाजारों में पूनः रोनक छा गई है, लोग एक स्थान से दुसरे स्थान पर आसानी आना करने लगे है। लेकिन हमें यह नहीं भुलना की कोरोना का कहर अभी भी जारी है, देश में रोजाना इस संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे है। सामाजिक दुरी का कई स्थानों पर पालन भी रहा है तथा कई स्थानों पर लोग इसकी धज्जिया भी उडा रहे है।

कोरोना फेलने का भय.....

वर्तमान में शासकीय उचित मुल्य की दुकानों पर उपभोक्ताओं को राशन वितरण किया जा रहा है, लेकिन यहां पहुंचने वाले उपभोक्ताओं से पीओएस मशीन पर अंगुठा लगाने के बाद हीं राशन दिया जा रहा है जो कि सीधे-सीधे कोरोना को आमंत्रित करने से कम नहीं है। पूर्व में उपभोक्ता का अंगूठा ना लगाते हुए राशन कार्ड के माध्यम से राशन वितरीत करने के आदेश जारी हुआ था, जिससे सेल्समैनों को कोरोना संक्रमण का भय कम था क्योंकि उन्हें उपभोक्ता का हाथ पकड़कर अंगूठा नहीं लगाना पडता था, अब पूनः 1 जून से  सोसायटीयों पर पीओएस मशीन से सेल्समेनों के फिंगरप्रिंट से हटाकर उपभोक्ताओं के फिंगरप्रिंट कर दिए हैं जिसके चलते सेल्समेनों को अब फिर से उपभोक्ता के फिंगरप्रिंट लेकर ही उनको राशन उपलब्ध करवाना है। इसको लेकर नगरी व ग्रामीण क्षेत्र में कोरोना बीमारी फैलने की पूरी संभावना जताई जा रही है। सेल्समेनों को भी कोरोना का भय सता रहा है, क्योंकि दिनभर में सेकड़ों उपभोक्ता राशन लेने पहुंचते है, एैसे में एक भी उपभोक्ता संक्र्रमित निकला तो वह सेल्समेन के साथ हीं अन्य उपभोक्ताओं को भी संक्रमित कर सकता है।
पेटलावद खाद्य अधिकारी आंनद चंगोड़ ने बताया कि कोरोना को देखते हुए पूर्व में मशीन का उपयोग नहीं किया गया था, लेकिन अब पूनः आगे से आदेश आयें है, नियम अनुसार हीं राशन वितरीत किया जा रहा है।

Post a Comment

Post Top Ad