Breaking

Saturday, June 27, 2020

दिनाकं 22.05.2020 को पीथमपुर में हुए गोलीकांड का पर्दाफाश ट्रांसपोर्ट व्यापारी पर गोली चलाने वाले तीन आरोपी गिरफ्तार आरोपीयो से घटना मे प्रयुक्त 315 बोर का देशी कट्टा ,जिन्दा कारतुस, खाली खोखा , चाकु और दो मोटर साईकल जप्त


धार  (तिरला) से पंकज शर्मा की रिपोर्ट


उक्त जानकारी देते हुए पुलिस अधीक्षक जिला धार श्री आदित्य प्रतापसिहं ने बताया कि आज से पाँच दिन पुर्व सागोरकुटी ब्रीज के पास प्रभातम कालोनी बेटमा रोङ मे रहने वाले ट्रांसपोर्ट व्यापारी राजेन्द्र पिता रघुवर औझा उम्र 38 साल को अपने घर से जय हनुमान ट्रांसपोर्ट आफिस पटेल काम्पलेक्स सेक्टर 3 पीथमपुर जाते समय सुबह करीब पौने ग्यारह बजे बिना नबंर की मोटर साईकल से आये दो अज्ञात बदमाशो ने हत्या करने के ईरादे से गोली मार दी थी और भाग गये थे । दिन दहाङे हुई इस सनसनी खेज घटना को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक महोदय एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महोदय जिला धार द्वारा घटना स्थल पर पहुच कर घटना स्थल का निरीक्षण किया व आरोपीयो को शीघ्र पकङने के लिये ओर घटना का खुलासा करने के लिये नगर पुलिस अधीक्षक पीथमपुर श्री हरीश मोटवानी के नेतृत्व मे एक टीम का गठन किय़ा जिसमे थाना प्रभारी पीथमपुर तारेश कुमार सोनी , थाना प्रभार सेक्टर .1 चन्द्रभान सिहं चढार , सागोर थाना प्रभारी प्रतीक शर्मा और क्राईम ब्रांच प्रभारी संतोष पाण्डेय और तीनो थाने का पुलिस बल रखा गया । पुलिस ने लगातार आरोपीयो की पतारसी के अथक प्रयास किये घटना स्थल के आसपास , बेटमा रोङ और अन्य जगहो के फुटेज खंगाले गये । पुलिस टीम द्वारा 18 स्थानो पर सीसीटीवी फुटेज देखे गये तो एक हिरो होंडा शाईन मोटरसाईकल पर दो अज्ञात बदमाश पुलिस को दिखाई दिये साथ ही यह भी मालूम हुआ की हमलावर फरियादी की तरफ सागौरकुटी ब्रिज के रांग साईड से गये थे और वापस उसी तरफ भागे । पुलिस टीम द्वारा घटना के पूर्व के भी फूटेज देखे गये तो घटना से दो दिन पूर्व शनिवार व रविवार को फरियादी राजेन्द्र ओझा का पीछा करते हुए दो बदमाश दिखाई दिये थे जिनका हुलिया और कपडो के आधार पर तलाश के संबंध मे पुलिस टीमें आसपास क्षेत्रो और इंदौर भी बदमाशो की तलाश मे भेजी गयी थी इसी दौरान पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि ट्रांसपोर्ट का व्यवसाय करने वाले भागीरथपुरा निवासी मुकेश यादव के लडके सौरभ उर्फ गोपाल उर्फ गोपी यादव और उसके साथी मोंटी सिंह ने राजेन्द्र औझा के उपर गोली चलाई है । मुखबिर सूचना के आधार पर पुलिस ने उक्त आरोपियों की तलाश उनके घरो पर की तो नही मिले तभी पुलिस को सूचना प्राप्त हुई कि गोपी यादव और मोंटी सिंह बेटमा रोड से इंदौर की तरफ जा रहै है उक्त सूचना के आधार पर पुलिस टीमों द्वारा बेटमा रोड पहुँचकर घेराबंदी की गई तो पुलिस को देखकर दोनो आरोपियों ने मोटरसाईकल से भागने की कोशिश की और सडक पर गिर गये जिससे दोनो बदमाशो को हाथ व पैर मे चोटे आई है । पुलिस ने उक्त दोनो व्यक्तियों को पकडकर पुछताछ  की तो उनके द्वारा घटना करना स्वीकार किया पुलिस द्वारा आरोपी सौरभ उर्फ गोपी उर्फ गोपाल पिता मुकेश यादव उम्र 26 साल निवासी भागीरथपुरा इंदौर और मोंटी सिंह पिता सुरेन्द्रपाल सिंह उम्र 27 साल निवासी भागीरथपुरा इंदौर को गिरफ्तार कर घटना मे उपयोग की गई बिना नंबर की शाईन मोटरसाईकल जप्त की गई । आरोपियो से पुछताछ की गई तो आरोपी सौरभ उर्फ गोपाल ने बताया कि उसके पिता मुकेश यादव का यादव रोडलाईंस के नाम से ट्रांसपोर्ट है और ट्रांसपोर्ट की गाडियां पीथमपुर स्थित स्टील कंपनियों से स्टील लोड करती है उन्ही कंपनियों से राजेन्द्र ओझा के जय हनुमान ट्रांसपोर्ट की गाडिया भी स्टील लोड करती है राजेन्द्र ओझा कम रेट पर माल लोड करता है इस कारण से हमारी गाडियां नही लग पाती है जिससे लगातार घाटा हो रहा था तो मेरे पिता मुकेश यादव ने मुझसे कहा कि राजेन्द्र ओझा को निपटा दो तो फिर मैने मेरे दोस्त मोंटी सिंह और अजय चौहान को बताया  और हम दोनो ने मिलकर राजेन्द्र ओझा को मारने की योजना बनाई । घटना से दो दिन पूर्व दिनांक 20.06.2020 को मै अजय चौहान के साथ पीथमपुर आया और राजेन्द्र औझा के घर से ट्रांसपोर्ट जाने की रैकी की और अजय चौहान को राजेन्द्र ओझा और उसकी मोटरसाईकल की पहचान करवाई यही काम रविवार को भी किया । फिर योजना के मुताबिक घटना वाले दिन सोमवार को अजय चौहान प्रभातम कालोनी के रास्ते पर मोटसाईकल से पहुँचा और मै और मोंटी सिंह पीथमपुर के रास्ते से सागौरकुटी ब्रिज के पास जाकर राजेन्द्र ओझा का इंतजार करने लगे कुछ समय बाद अजय चौहान ने मोबाईल पर सूचना दी कि राजेन्द्र ओझा अपने घर से निकल गया है उसके द्वारा उसकी मोटरसाईकल का नंबर MP04-QS-9543 भी फोन पर बताया राजेन्द्र औझा मोटरसाईकल से आकर सागौरकुटी ब्रिज के पास पहुँचा तभी उसे रोककर मोंटी सिंह ने उसके उपर गोली चला दी और पीथमपुर धन्नड होकर इंदौर की तरफ भाग गये । विवेचना के दौरान पुलिस द्वारा आरोपी मोंटी सिंह से 315 बोर का देशी कट्टा चला हुआ कारतुस और एक जिंदा राउंड व आरोपी सौरभ उर्फ गोपी से एक चाकु और घटना मे प्रयुक्त की गई मोटरसाईकल जप्त किया है आरोपी अजय चौहान को गिरफ्तार कर उससे घटना मे प्रयुक्त हिरो होंडा मोटरसाईकल जप्त की गई है । मुकेश यादव घटना का मुख्य षडयंत्रकारी होने से मुकेश यादव पिता रामप्रसाद यादव को धारा 120बी भादवि के तहत आरोपी बनाया गया है । आरोपी मुकेश यादव के विरुद्ध थाना बाणगंगा मे मारपीट के कई मामले दर्ज है और मोंटी सिंह के विरुद्ध बलात्कार एंव आर्म्स एक्ट का प्रकरण दर्ज है । पुलिस द्वारा इस सनसनीखेज गोलीकांड के खुलासे मे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक देवेन्द्र पाटीदार के मार्गदर्शन, नगर पुलिस अधीक्षक हरिश मोटवानी के नेतृत्व मे पीथमपुर *थाना प्रभारी तारेश सोनी , सेक्टर 1 थाना प्रभारी चन्द्रभान सिहं चढार , सागोर थाना प्रभारी प्रतीक शर्मा और क्राईम ब्रांच प्रभारी संतोष पाण्डेय , स.उ.नि. धीरजसिंह  , प्रआर.  रामसिंह , आर. बलराम, संग़ाम , राहुल बांगर, नवीन ,सायबर ब़ांच से आर. प़शान्त , शुभम, आदर्श ,पीथमपुरथाने से प़.आर. अनिल राजावत , आर लोकेश शुक्ला , आर दिलीप यादव , आर करन कौशल , आर विशाल भदकारे का महत्वपुर्ण योगदान रहा* ।
आरोपियों के नाम
सौरभ उर्फ गोपाल उर्फ गोपी पिता मुकेश यादव उम्र 26 साल निवासी भागीरथपुरा इंदौर
मोंटी सिंह पिता सुरेन्द्रपाल सिंह उम्र 27 साल निवासी भागीरथपुरा इंदौर
अजय चौहान पिता भोला चौहान उम्र 23 साल निवासी भागीरथपुरा इंदौर 
मुकेश यादव पिता रामप्रसाद यादव उम्र 47 साल निवासी भागीरथपुरा इंदौर

Post a Comment

Post Top Ad