Breaking

Wednesday, June 17, 2020

रोजाना लग जाते है नगर में जाम.... लोग एैसे घुम रहे जैसे गायब हो गया कोरोना.....बढ़ती भीड़ पर कोई नियंत्रण नहीं.....



पेटलावद से हरिश राठौड़ की रिपोर्ट

पेटलावद। लॉक डाउन में छुट मिलते हीं नागरीक एैसे लापरवाह हो गयें है जैसे कि कोरोना की यहां विदाई हो गई हों। नागरिक इससे अंजान बन बैठे है कि आज भी कोरोना का कोहराम जारी है, देश में लगातार कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा बड़ता हीं जा रहा है तथा कई लोग रोजाना इस बीमारी से मौत के गाल में समा रहे है। वहीं प्रदेश के विभिन्न शहरों में कोरोना संक्रमित नागरिकों की संख्या तेजी से बड़ती जा रहीं है, और सरकार अस्पतालों में कोरोना के इलाज की कोई व्यवस्था दिखाई नहीं देती है उसके बाद भी स्थानीय स्तर पर नागरीक इससे सबक लेने को तैयार नहीं दिख रहे है कोरोना से बचने के लिए जो सावधानिया रखनी चाहिए उसके प्रति आम लोगो में कोई रूची नहीं दिख रहीं है वही अब प्रशासन ने भी जागरूकता फेलाने के काम से हाथ खिंच लियें है। नगर के विभिन्न वार्डो में सुबह से हीं बडी संख्या में लोग दुकानों पर भीड़ लगाने लगे है। किराना, महुआ, मनिहारी, जुते-चप्पल, सब्जी, कटलरी तथा बरसाती की दुकानों तथा खाद बीज की दुकानों पर भारी संख्या में ग्रामीण खरीदारी के लिए उमड़ रहे है, यहां शोसल डिस्टेंसिंग की धज्जिया उड़ाई जा रहीं है। प्रशासन इस तरफ से आंखे बंद करके बैठा है, जिम्मेदार अधिकारी लोगो को मास्क पहनने, आपस में छः फुट की दुरी रखने तथा अनावश्यक बाजार में नहीं आने जैसे कोरोना से बचाव के उपायों के प्रति जागरूक करने में पुरी तरह लापरवाहीं बरत रहे है। नगर में जिस तरह की भीड़ उमड़ रहीं है उससे क्षेत्र में कोरोना वायरस फेलने का खतरा बढ़ गया है,  यदि इस भीड़ में एक भी व्यक्ति संक्रमित हुआ तो वह पता नहीं कितने लोगो को संक्रमण फैलाएंगा, इससे आगामी दिनों में कोरोना एक गंभीर चुनोती बन सकता है।

नागरिक भी हो गयें है बेपरवाह....

प्रशासन को सुस्त हुआ देख नागरिक भी कोरोना वायरस को लेकर निश्चित हो गयें है उन्हें लगता है कि जैसे अब कोरोना वायरस विदा हो गया है, वह यह नहीं समझ रहे है कि लाक डाउन सरकार ने खोला है परंतु खतरा अभी टला नहीं है , जरा से असावधानी बड़ी मुसीबत लेकर आएगी और पुरा क्षेत्र कोरोना संक्रमण से ग्रस्त हो सकता है। नागरिक जिस तरह से खुलकर बाजारों में आ रहे है उससे प्रतिदिन यह अांशंका बढ रहीं है कि किसी भी समय क्षेत्र में कोरोना अपने पांव फेला सकता है। नागरिकों में जागरूकता के अभाव के कारण हर किसी का जीवन दाव पर लग सकता है। नगर के भगतसिंह मार्ग, पुराना बस स्टेण्ड, श्रद्धांजली चौक, गांधी चौक, झंडा बाजार आदि क्षेत्रों में उमड़ने वाली भीड़ के कारण जाम की स्थिती बन जाती है जिसे देखने के लिए एक भी पुलिस जवान उपलब्ध नहीं होता है। केवल श्रंद्धाजली चौक पर खाना पुर्ति के लिए कुछ समय पुलिस जवान खडे रहते है, पहले की तरह सायरन बजाता पुलिस वाहन अब नगर में नहीं घुमता और न हीं प्रशासन का कोई अधिकारी शोसल डिस्टेंसग रखने के बारे में भी लोगो को समझाने नहीं आते है। जिससे हर समय कोरोना का खतरा मंडराता दिखाई दे रहा है।



Post a Comment

Post Top Ad