Breaking

Wednesday, June 3, 2020

मुख्यमंत्री श्री Shivraj Singh Chouhan ने कहा है कि श्रम सिद्धि अभियान में प्रत्येक जरूरतमंद श्रमिक को रोजगार उपलब्ध करवाये जायें। आवश्यकतानुसार नये जॉब कार्ड प्रदान किये जायें।




धार( तिरला) पंकज शर्मा, की रिपोर्ट

प्रदेश में 24 लाख से अधिक मजदूरों को मिला काम, किसानों को 17 हजार 710 करोड़ का भुगतान हुआ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जानी श्रमिक और किसान कल्याण की प्रगति
धार -  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश में मनरेगा के अंतर्गत संचालित कार्यों की जानकारी अपर मुख्य सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास श्री मनोज श्रीवास्तव से वीडियो कान्फ्रेंसिंग से प्राप्त की। इस दौरान बताया गया कि श्रम सिद्धि अभियान अन्तर्गत प्रदेश में 24 लाख 22 हजार 310 श्रमिकों का नियोजन हुआ है। अधिकांश जिलों में मनरेगा हेल्पलाइन भी कार्य कर रही है। कुल 5 लाख 85 हजार नये जॉब कार्ड जारी किये गये हैं। पात्र परिवारों को संबल योजना में लाभान्वित किया जा रहा है। जो प्रवासी श्रमिक राशन कार्डधारी नहीं है, उन्हें भी लाभान्वित किया जा रहा है। श्रमिकों को 1600 करोड़ से अधिक की राशि का भुगतान किया गया है।

किसानों को मिल गये हैं गेहूँ उपार्जन के 17 हजार 710 करोड़ रूपये

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज वीडियो कान्फ्रेंसिंग से गेहूँ उपार्जन संबंधी अद्यतन जानकारी प्राप्त की। प्रमुख सचिव खाद्य श्री शिवशेखर शुक्ला ने बताया कि उपार्जन प्रारंभ होने से आज तक प्रदेश में 124 लाख 65 हजार मीट्रिक टन गेहूँ का रिकार्ड उपार्जन किसानों से किया गया है। इसमें 112 लाख मीट्रिक टन गेहूँ गोदामों में सुरक्षित परिवहन कर पहुंचाया जा चुका है। यह कुल उपार्जित गेहूँ का 90 फीसदी है। प्रदेश में 13 लाख 20 हजार किसानों को इसके लिये 17 हजार 710 करोड़ रूपये की राशि का भुगतान किया जा चुका है। किसानों में करीब साढ़े 9 लाख छोटे और मध्यम श्रेणी के किसान शामिल हैं। राज्य में अनुमानित 23 हजार करोड़ रूपये का भुगतान वर्तमान गेहूँ उपार्जन कार्य के लिए किया जाना है। भोपाल सहित इंदौर, उज्जैन, धार, देवास, शाजापुर और श्योपुर में गेहूँ उपार्जन प्रक्रिया जारी है।

Post a Comment

Post Top Ad