Breaking

Wednesday, July 1, 2020

लॉकडाउन के दौरान बालकों के लैंगिक शोषण के अपराधों के विषय पर पुस्‍तक लिखने हेतु विभाग प्रमुख ने की सराहना,किया गया सम्मान .....



पेटलावाद से हरिश राठौड़ की रिपोर्ट

झाबुआ श्रीमती मोसमी तिवारी प्रमुख जनसंपर्क अधिकारी, लोक अभियोजन मध्‍यप्रदेश द्वारा बताया गया कि कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के लिए देशभर में लॉकडाउन घोषित कर लोगो को घर में ही रहने की अपील की गयी थी, ऐसे में म.प्र. लोक अभियोजन के विभाग प्रमुख महानिदेशक/संचालक लोक अभियोजन पुरूषोत्‍तम शर्मा ने इस अवसर को उत्‍पादक एवं रचनात्‍मक बनाने तथा बालकों के कल्‍याण के लिए, बालकों के विरूद्ध होने वाले लैंगिक अपराधों से संबंधित कानूनी विषय पर पुस्‍तक लिखने का विचार किया और इस विचार को कार्यरूप में परिवर्तित करने के लिए रतलाम में पदस्‍थ विभाग की सहायक जिला लोक अभियोजन अधिकारी सीमा शर्मा को इस विषय पर पुस्‍तक लिखने के लिए आदेशित किया और स्‍वयं ने भी पुस्‍तक लेखन के कार्य में अपना महत्‍वपूर्ण योगदान दिया। आप दोनो ने करीब 450 पृष्‍ठों की पुस्‍तक लिख दी जो शीघ्र ही प्रकाशित होने जा रही है। यह पुस्‍तक इस विषय से संबद्ध सभी मुख्‍य कर्ताओं के लिए सुचनाप्रद एवं उपयोगी है। पुरूषोत्‍तम शर्मा सन् 1986 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं तथा विधिक विषयों पर आपका गहन अध्‍ययन है। आपके सानिध्‍य व मार्गदर्शन में सुश्री सीमा शर्मा द्वारा इस पुस्‍तक को मूर्त रूप दिया गया। यह पुस्‍तक ”पॉक्‍सो एक्‍ट अनुसन्‍धान एवं विचारण” शीर्षक से प्रकाशित की जा रही है जिसे मध्‍य प्रदेश लोक अभियोजन के वरिष्‍ठ अधिकारियों को प्रदाय की जाएगी जिससे उन्‍हें अपनी व्‍यावसायिक दक्षता बढ़ाने में सहायता मिलेगी। सुश्री सीमा शर्मा द्वारा इसके पूर्व भी एक अन्‍य विधिक पुस्‍तक ”पुलिस अनुसंधान एवं अभियोजन” का लेखन एवं प्रकाशन किया जा चुका है।
सीमा शर्मा द्वारा किये गये पुस्‍तक लेखन के इस कार्य के लिए संचालक श्री शर्मा ने इनकी सराहना करते हुए प्रशस्ति पत्रप्रदान किया है।

 *उक्त जानकारी देते हुए झाबुआ मिडिया प्रभारी सुश्री सूरज वैरागी ने बताया कि झाबुआ अभियोजन स्टाफ ने सुश्री सीमा शर्मा केओ को बधाई दी है ।*

Post a Comment

Post Top Ad