Breaking

Wednesday, July 8, 2020

बीआरसी कार्यालय में पदस्थ लेखापाल कोरोना पॉजिटीव..... नगर में मचा हड़कम्प...

बीआरसी कार्यालय में पदस्थ लेखापाल कोरोना पॉजिटीव..... नगर में मचा हड़कम्प... पेटलावद। जिले में कोरोना तेजी से पेर पसार रहा है तथा नगर में उस समय हड़कम्प मंच गया तब नागरिकों को पता चला की स्थानीय बीआरसी ऑफिस में पदस्थ एक लेखापाल को कोरोना संक्रमण हो गया। शासकीय सेवक झाबुआ निवासी है जो रोजाना अपडाउन कर पेटलावद बीआरसी कार्यालय में आते है, जांच के बाद लेखापाल की रिपोर्ट पॉजिटीव आने पर उनके सम्पर्क में आने वाले 59 लोगो की लिस्ट प्रशासन ने तैयार कर ली है और सभी को होमक्वारेंटीन किया गया है। बताया जा रहा है कि बीआरसी कार्यालय से शिक्षकों को पुस्तके छात्रों को वितरित करने के लिए दी गई थी, इस दौरान शिक्षक लोगो ने छात्रों के घर पहुंच पुस्तकों का वितरण किया, जिसके चलते संक्रमण फैलने का अंदेशा बन गया है। उक्त मामले के बाद स्थानीय प्रशासन सक्रिय हो गया है और लोगो को सावधानी बरतने के लिए जागरूक किया जा रहा है। बीएमओं डॉ. एमएल चौपड़ा ने जानकारी देते हुए बताया कि लेखापाल के सम्पर्क में आयें लगभग 59 लोगो को होमक्वारेंटीन किया गया है तथा सभी के सेंपल लेकर जांच के लिए भेजे जा रहे है।  नहीं मान रहे लोग..... तेजी से फेल रहे इस संक्रमण के बाद लोग जागरूक नहीं हो रहे है, लोग बिना किसी भय के मुंह पर मास्क पहने बिना हीं नगर में घुमते दिखाई दे रहे है। लेखापाल पॉजिटीव आने के बाद नगर में हडकम्प जरूर मच गया है लेकिन ग्रामीण अंचल से आने वाले लोग अभी भी शोसल डिस्टेसिंग के नियमों की धज्जिया उड़ाते देखे जा सकते है।    ............

पेटलावाद से हरिश राठौड़ की रिपोर्ट

पेटलावद। जिले में कोरोना तेजी से पेर पसार रहा है तथा नगर में उस समय हड़कम्प मंच गया तब नागरिकों को पता चला की स्थानीय बीआरसी ऑफिस में पदस्थ एक लेखापाल को कोरोना संक्रमण हो गया। शासकीय सेवक झाबुआ निवासी है जो रोजाना अपडाउन कर पेटलावद बीआरसी कार्यालय में आते है, जांच के बाद लेखापाल की रिपोर्ट पॉजिटीव आने पर उनके सम्पर्क में आने वाले 59 लोगो की लिस्ट प्रशासन ने तैयार कर ली है और सभी को होमक्वारेंटीन किया गया है। बताया जा रहा है कि बीआरसी कार्यालय से शिक्षकों को पुस्तके छात्रों को वितरित करने के लिए दी गई थी, इस दौरान शिक्षक लोगो ने छात्रों के घर पहुंच पुस्तकों का वितरण किया, जिसके चलते संक्रमण फैलने का अंदेशा बन गया है। उक्त मामले के बाद स्थानीय प्रशासन सक्रिय हो गया है और लोगो को सावधानी बरतने के लिए जागरूक किया जा रहा है। बीएमओं डॉ. एमएल चौपड़ा ने जानकारी देते हुए बताया कि लेखापाल के सम्पर्क में आयें लगभग 59 लोगो को होमक्वारेंटीन किया गया है तथा सभी के सेंपल लेकर जांच के लिए भेजे जा रहे है।

नहीं मान रहे लोग.....

तेजी से फेल रहे इस संक्रमण के बाद लोग जागरूक नहीं हो रहे है, लोग बिना किसी भय के मुंह पर मास्क पहने बिना हीं नगर में घुमते दिखाई दे रहे है। लेखापाल पॉजिटीव आने के बाद नगर में हडकम्प जरूर मच गया है लेकिन ग्रामीण अंचल से आने वाले लोग अभी भी शोसल डिस्टेसिंग के नियमों की धज्जिया उड़ाते देखे जा सकते है। 


Post a Comment