Breaking

Tuesday, July 14, 2020

पटवारी के खिलाफ ग्रामीण हुए लामबंद, नवागत एसडीएम कह रहे ग्रामीण मिले मुझसे.... मामला पीएम किसान निधि के लिए किसानों को परेशान करने का.....

पटवारी के खिलाफ ग्रामीण हुए लामबंद, नवागत एसडीएम कह रहे ग्रामीण मिले मुझसे.... मामला पीएम किसान निधि के लिए किसानों को परेशान करने का..... पेटलावद। किसानों के हित में शासन द्वारा लगातार ऐसी कई योजनाए बनाकर आदेश जारी कियें जा रहे है जिससे की किसानों का भला हो सके तथा उनके क्रियांवयन के लिए जिला स्तर पर कलेक्टर के माध्यम से माॅनिटरिंग भी की जा रहीं है, लेकिन राजस्व विभाग व उससे जुडे कर्मचारी विशेष तोर पर फिल्ड में काम करने वाले पेटलावद तहसील के पटवारियों के काम काज के तोर तरिकों से किसान हितेषी योजनाओं का लाभ किसानों को नहीं मिल पा रहा है। किसानों को अपनी समस्याओं का हल निकालने के लिए अधिकारियों के चक्कर लगाने पड़ रहे है। यहां तक पटवारियों के खिलाफ आवेदन और ज्ञापन देने तक की स्थिती निर्मित हो गई है। एैसा हीं एक मामला मंगलवार को तहसील कार्यालय में देखने को मिला। क्या है मामला..... ग्राम पंचायत कोदली के ग्रामीण राजेन्द्र पाटीदार, महेश मावी, ललित, रामगोपाल, कालुराम, बालकृष्ण सहित 50 से अधिक ग्रामीणों के द्वारा एक आवेदन अनुविभागीय अधिकारी राजस्व के नाम सोंपते हुए बताया कि हम सब ग्रामीण कृषक होकर कोदली के निवासी है तथा कोदली के वर्तमान पटवारी मोहित उईके द्वारा किसानों को परेशान किया जा रहा है। पीएम सम्मान निधि योजना के अंतर्गत मिलने वाली राशि को किसानों के खातों में नहीं डाला जा रहा है, तोजी और जमाबंदी नहीं कराई जा रहीं है। साथ हीं शराब पीकर किसानों को झुठे प्रकरणों में फंसाने की धमकी तक दी जा रहीं है। ग्रामीणों द्वारा जो शिकायती आवेदन पत्र एसडीएम कार्यालय में प्रस्तुत किया है, उसके संबंध में ग्राम पंचायत कोदली के लेटर पेड़ पर 11 जुलाई को पटवारी की शिकायत संबंधित प्रस्ताव भी सलंग्न किया गया। कोदली के ग्रामीणों ने एक मत होकर पटवारी के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए पटवारी को हटाने की मांग की है, जिससे की उनको शासन की योजना का लाभ मिल सकें।  मेरे पास भेजे ग्रामीणों को.... चुकी मामला राजस्व विभाग का है और राजस्व विभाग के पटवारी की शिकायत पेटलावद में नवागत एसडीएम एलएन गर्ग तक मिड़िया के माध्यम से पहुंची तो उन्होने बताया कि आपके माध्यम से मामला संज्ञान में आया है, इस संबंध में पिड़ित लोग सिधे मुझसे मिले, समस्या का निराकरण किया जाएगा।   फोटो पेटलावद 01 - एसडीएम कार्यालय पहुंचे ग्रामीण।  ......................

पेटलावाद से हरिश राठौड़ की रिपोर्ट

पेटलावद। किसानों के हित में शासन द्वारा लगातार ऐसी कई योजनाए बनाकर आदेश जारी कियें जा रहे है जिससे की किसानों का भला हो सके तथा उनके क्रियांवयन के लिए जिला स्तर पर कलेक्टर के माध्यम से माॅनिटरिंग भी की जा रहीं है, लेकिन राजस्व विभाग व उससे जुडे कर्मचारी विशेष तोर पर फिल्ड में काम करने वाले पेटलावद तहसील के पटवारियों के काम काज के तोर तरिकों से किसान हितेषी योजनाओं का लाभ किसानों को नहीं मिल पा रहा है। किसानों को अपनी समस्याओं का हल निकालने के लिए अधिकारियों के चक्कर लगाने पड़ रहे है। यहां तक पटवारियों के खिलाफ आवेदन और ज्ञापन देने तक की स्थिती निर्मित हो गई है। एैसा हीं एक मामला मंगलवार को तहसील कार्यालय में देखने को मिला।

क्या है मामला.....


ग्राम पंचायत कोदली के ग्रामीण राजेन्द्र पाटीदार, महेश मावी, ललित, रामगोपाल, कालुराम, बालकृष्ण सहित 50 से अधिक ग्रामीणों के द्वारा एक आवेदन अनुविभागीय अधिकारी राजस्व के नाम सोंपते हुए बताया कि हम सब ग्रामीण कृषक होकर कोदली के निवासी है तथा कोदली के वर्तमान पटवारी मोहित उईके द्वारा किसानों को परेशान किया जा रहा है। पीएम सम्मान निधि योजना के अंतर्गत मिलने वाली राशि को किसानों के खातों में नहीं डाला जा रहा है, तोजी और जमाबंदी नहीं कराई जा रहीं है। साथ हीं शराब पीकर किसानों को झुठे प्रकरणों में फंसाने की धमकी तक दी जा रहीं है। ग्रामीणों द्वारा जो शिकायती आवेदन पत्र एसडीएम कार्यालय में प्रस्तुत किया है, उसके संबंध में ग्राम पंचायत कोदली के लेटर पेड़ पर 11 जुलाई को पटवारी की शिकायत संबंधित प्रस्ताव भी सलंग्न किया गया। कोदली के ग्रामीणों ने एक मत होकर पटवारी के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए पटवारी को हटाने की मांग की है, जिससे की उनको शासन की योजना का लाभ मिल सकें।

मेरे पास भेजे ग्रामीणों को....

चुकी मामला राजस्व विभाग का है और राजस्व विभाग के पटवारी की शिकायत पेटलावद में नवागत एसडीएम एलएन गर्ग तक मिड़िया के माध्यम से पहुंची तो उन्होने बताया कि आपके माध्यम से मामला संज्ञान में आया है, इस संबंध में पिड़ित लोग सिधे मुझसे मिले, समस्या का निराकरण किया जाएगा।

फोटो पेटलावद  एसडीएम कार्यालय पहुंचे ग्रामीण। 

Post a Comment